11वीं में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं? | Class 11th subject

दोस्तों अगर आप ये जानना चाहते हैं कि 11वीं में कौन -कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (11th mein kaun kaun se subject hote Hain) या आपको 11वीं में कौन सा विषय लेना चाहिए? तो इसे पूरे ध्यान से पढ़ें?

जैसे कि आपलोग जानते हैं कक्षा 11कक्षा 10 के बाद आती है कक्षा 11 में आने के लिए सबसे पहले आपको कक्षा 10 पास करनी होती है और कक्षा 11 को‌ स्कूल में उच्च पद दिया गया है। कक्षा 11 में आकर सभी विषय विभाजित हो जाता है?

11th मैं कौन-कौन से विषय होते हैं? (11th mein kaun kaun se subject hote Hain)

11th मैं कौन-कौन से विषय होते हैं?

11वीं में विषयों को मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा गया है, वे तीनों विषय निम्नलिखित हैं-

  • Science Stream (साइंस स्ट्रीम)
  • Commerce Stream ( कॉमर्स स्ट्रीम)
  • Arts Stream (कला स्ट्रीम)

Science Stream (साइंस स्ट्रीम)

यह वैज्ञानिक क्षेत्र से जुड़े विषय है जिसमें आसपास के वस्तुओ का अध्ययन किया जाता है और उसके सत्य होने का प्रयोगशाला में प्रयोग (practical) भी कराया जाता है।इसमें करियर अवसर बहुत अच्छे होते है। अगर आप साइंस के क्षेत्र में ही जाना चाहते हैं तभी आप इसे अपने कोर्स में पढ़े।

11वीं में साइंस के अंतर्गत आने वाले विषय निम्नलिखित है-

  • मैथमेटिक्स (Mathemitics)
  • बायोलॉजी (Biology)
  • केमिस्ट्री (Chemistry)
  • फिजिक्स (Physics)
  • इंग्लिश (English)
  • फिजिकल एजुकेशन (Physical Education)

MATHEMATICS (गणित)

मैथ्स (Maths) यानि गणित। ये आपके लिए ढ़ेर सारे रास्ते खोलती है। मैथ्स ग्रुप में

  • फिजिक्स (Physics)
  • केमेस्ट्री (Chemistry)
  • मैथ्स (Maths)
  • अंग्रेजी (English) सब्जेक्ट में पढ़ाई होती है। 

12वीं के बाद इंजीनियरिंग तो मेन है ही, इसके साथ ही साइंटिस्ट, साइंस स्पेशलिस्ट्स (विभिन्न different सेक्टर्स sector में), डिफेंस Defence में जियोलॉजी, एरोनॉटिकल्स, रिमोट सेंसिंग, इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलॉजी, रोबोटिक्स, मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन में भी करियर के बारे में आप सोच सकते हैं।

बायोलॉजी (Biology)

इस विषय को विज्ञान में सबसे उपर रखा गया है। बायोलॉजी (Biology) ग्रुप में

  • फिजिक्स (Physics)
  • केमेस्ट्री (chemistry)
  • बायोलॉजी (Biology)
  • अंग्रेजी (English) सब्जेक्ट्स होते हैं।

बायोलॉजी , डॉक्टर (Doctor) और हेल्थ (Health) सर्विसेज में आपके लिए करियर के दरवाजे खोलती है। इसके अलावा पैरामेडिकल और नर्सिंग फील्ड, बायो टेक, हॉस्पिटल मैनेजमेंट, हेल्थ इन्वायरमेंट, बायो केमेस्ट्री, केमिकल, जियोग्राफी, डिफेंस, क्रिएटर, रिसर्चर, कार्टोग्राफर, साइंटिस्ट और टीचर भी बन सकते हैं।


CHEMISTRY

केमिस्ट्री (Chemistry) इसमें विभिन्न प्रकार के रासायनिक क्रियाओं और हमारे आसपास के रासायनिक तत्वों के बारे में अध्ययन होता है।

Physics

फिजिक्स (Physics)  इसे भौतिकी भी कहते हैं। इसमें पदार्थ, तत्व, भौतिक परिवर्तन, लाइट इत्यादि का अध्ययन होता है। और Technology से जुड़ी हर चिज का अध्ययन होता है।

English

इसमें आपको अंग्रेजी भाषा सिखाई जाती है जिससे आप अपने इंग्लिश (English) स्किल skill को मजबूत (Strong) कर सके और कहीं भी किसी के सामने आप बिना कोई रूकावट के बेझिझक इंग्लिश बोल सके।

Physical Education

यह एक ऑप्शनल (Optional) सब्जेक्ट (subject) होता है जो आपको आपके शारीरिक क्षमता को बढ़ाने अथवा स्वस्थ रहने का ज्ञान (knowledge) प्रदान करता है।

Commerce Stream (कॉमर्स स्ट्रीम)

इस विषय को चुनने के साथ ही आप अपने करियर की संभावनाओं को एक अच्छा रूप दे सकते हैं। बतौर सीए (CA Chartered accountants), सीएस (CS Company secretary), बैंकिंग, सीएफए, शेयर सिक्योरिटी, मार्केटिंग, सेल्स, बिजनेस मैनेजर (Buisiness Manager), एडवर्टाइजर, इकोनोमिस्ट (Economist) और इटरप्रिन्योर (Entrepreneur) भी आप अपने करियर को प्लान कर सकते हैं।

कॉमर्स स्ट्रीम में पिछले कुछ समय से स्टूडेन्ट्स की दिलचस्पी बढ़ी है। बिजनेस रिलेटेड स्टडीज में दिलचस्पी रखने वाले इस सब्जेक्ट को चुनकर अच्छा करियर बना सकते हैं। 

कॉमर्स स्ट्रीम

  • एकाउंटेंसी (Accountancy)
  • बिज़नस स्टडीज (Business Studies)
  • मैथमैटिक्स (Mathematics) 
  • इकोनॉमिक्स (Economics)
  • इंग्लिश (English)
  • फिजिकल एजुकेशन (Physical Education)

ACCOUNTANCY

एकाउंटेंसी (Accountancy) इस विषय में आपको खाता (account) से सम्बंधित जैसे हिसाब-किताब, खाता खोलने, खाता के प्रकार, खाता को मैनेज करने इत्यादि बातों का अध्ययन किया जाता है कॉमर्स में सबसे ज्यादा भारी विषय यही होते हैं।

Business Studies

इस विषय में आपको बिज़नस से सम्बंधित जैसे एक अच्छे बिज़नस मैन की क्वालिटी Quality, बिज़नस Business कैसे की जाती है, बिज़नस क्यों किया जाता है, उसके लाभ हानि (profit and loss), विशेषताएं इत्यादि ज्ञान होता है।

Mathematics

मैथ्स (Maths) यानि गणित। ये आपके लिए ढ़ेर सारे रास्ते खोलती है। मैथ्स ग्रुप में फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry), मैथ्स (Maths), अंग्रेजी (English) सब्जेक्ट में पढ़ाई होती है।

12वीं के बाद इंजीनियरिंग तो मेन है ही, इसके साथ ही साइंटिस्ट, साइंस स्पेशलिस्ट्स (विभिन्न different सेक्टर्स sector में), डिफेंस Defence में जियोलॉजी, एरोनॉटिकल्स, रिमोट सेंसिंग, इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलॉजी, रोबोटिक्स, मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन में भी करियर के बारे में आप सोच सकते हैं। 

Economics

इस विषय में आपको मनी, पूँजी एवं आर्थिक स्थिति, विकास एवं आर्थिक स्थिति के सुधार इत्यादि के बारे में ज्ञान दिए जाते हैं।

English

इसमें आपको अंग्रेजी भाषा सिखाई जाती है जिससे आप अपने इंग्लिश ( English) स्किल skill को मजबूत (Strong) कर सके और कहीं भी किसी के सामने आप बिना कोई रूकावट के बेझिझक इंग्लिश बोल सके।

Physical Education

यह एक ऑप्शनल (Optional) सब्जेक्ट (subject)होता है जो आपको आपके शारीरिक क्षमता को बढ़ाने अथवा स्वस्थ रहने का ज्ञान (knowledge) प्रदान करता है।

Arts Stream (कला स्ट्रीम)

आर्ट्स में विषय चयन के लिए ढ़ेरों विकल्प हैं। विषय चयन के साथ आप

म्यूजिक (Music)एक्टिंग (Acting)
राइटिंग (Writing)एनीमेशन (Animation)
डिजाइनिंग (Designing),फोटोग्राफी (Photograph)
जर्नलिज्म (Journalism)एडवरटाइजिंग (Advertisi)
पेंटिंग (painting)हिन्दी (Hindi)
इंग्लिश (English)हिस्ट्री (History)
जि-योग्राफी (Geography)संस्कृत (Sanskrit)
साइकोलॉजी (Psychology)पोलिटिकल साइंस (Political Science)
फिलोसोफी (Philosophy)सोशियोलॉजी (Sociology)
इकोनॉमिक्स (Economics)

सिविल सर्विसेज, टीचिंग और बैंकिंग में अपने करियर को दिशा दे सकते हैं। जिन्हें इतिहास (History), भूगोल, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, समाज शास्त्र में दिलचस्पी हो, वे 10वीं के बाद आर्ट की पढ़ाई कर सकते हैं। 

  • हिन्दी (Hindi)
  • इंग्लिश (English)
  • हि्ट्री (History)
  • जियोग्राफी (Geography)
  • संस्कृत (Sanskrit)
  • साइकोलॉजी (Psychology)
  • पोलिटिकल साइंस (Political Science)
  • फिलोसोफी (Philosophy)
  • इकोनॉमिक्स (Economics)
  • सोशियोलॉजी (Sociology)

Hindi

हिंदी हमरी मातृभाषा है और हमलोग अपना मातृभाषा को आप पढ़ने में इच्छा रखते हैं तो आपको यह विषय जरूर लेना चाहिए।

English

इसमें आपको अंग्रेजी भाषा सिखाई जाती है जिससे आप अपने इंग्लिश (English) स्किल skill को मजबूत (Strong) कर सके और कहीं भी किसी के सामने आप बिना कोई रूकावट के बेझिझक इंग्लिश बोल सके।

History

हिस्ट्री मतलब इतिहास। इस विषय में प्राचीन काल या वर्तमान काल की संस्कृति के बारे में पढ़ते है।

Geography

जियोग्राफी मतलब भूगोल । इस विषय में मुख्य रूप से विश्व world  या पृथ्वी के बारे में अध्ययन किया जाता है।

Psychology

साइकोलॉजी मतलब मनोविज्ञान। इसके अंदर मानव का व्यवहार गुन का अध्ययन किया जाता है।

Economics

इकोनॉमिक्स मतलब अर्थशास्त्र। इस विषय में  देश की अर्थव्यवस्था से जुड़ी सभी  विषयों के बारे में अध्ययन किया जाता है।

    यह भी पढ़ें : 

बस इस बात को बिल्कुल मत भूलें कि सब्जेक्ट पर्सनल इंटरेस्ट, स्किल और एप्टीट्यूट के आधार पर चुनना चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *