12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें | 12th ke baad ias ki taiyari kaise karen

 आईएएस ऑफिसर हमारे देश के प्रशासनिक पद में सबसे ऊंचा पद होता है। आईएएस ऑफिसर बनने के बाद ही आप देश के सबसे बड़े और प्रतिष्ठित प्रशासनिक विभागों में कार्य कर सकते हैं जैसे कि केंद्रीय मंत्रिमंडल राज्य मंत्रिमंडल और भी कई सारे governing bodies में काम कर सकते हैं। 

आईएएस ऑफिसर बनना हमारे देश में बहुत ही बड़ी बात है जब कोई छात्र एक आईएएस ऑफिसर बनता है तब समाज में उसकी इज्जत और उसका रुतबा बहुत ही बढ़ जाता है इसीलिए आज युवाओं का सपना होता है कि वह आईएएस ऑफिसर बने और समाज और देश के लिए अच्छा कार्य कर सकें। 

आईएएस ऑफिसर की परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षा में से एक है इसीलिए छात्रों को इस परीक्षा की तैयारी अपने शुरुआत समय से ही कर देनी चाहिए और आईएएस ऑफिसर बनने के लिए तैयारी का सबसे सही समय 12वीं कक्षा होता है। 

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे की 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें बहुत से छात्र जो की 12वीं कक्षा में है और वह आईएएस बनना चाहते हैं उनके मन में यह प्रश्न रहता है कि 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे किया जाए 12वीं के बाद कैसे आईएएस की पढ़ाई करें? 

आर्टिकल में मैं आपको 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें? इससे संबंधित सभी छोटी-बड़ी बातों को विस्तार से बताऊंगा अगर आप भी चाहते हैं और आप अभी 12वीं कक्षा में है तो यह आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा इसीलिए इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़ें। 

12th ke baad IAS ki taiyari kaise karen

आईएएस की परीक्षा यूपीएससी के द्वारा आयोजित कराई जाती है इस परीक्षा की तैयारी करने से पहले हमें यूपीएससी की परीक्षा के विषय के बारे में जान लेना बहुत जरूरी है। तभी हम इस परीक्षा के तैयारी अच्छे से कर सकते हैं यूपीएससी परीक्षा या कहे तो आईएएस की परीक्षा आप ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद ही कर सकते हैं। 

अब जो छात्र आईएएस बनना चाहते हैं उनके लिए 12वीं के बाद तैयारी शुरू करना बहुत ही ज्यादा जरूरी हो जाता है क्योंकि 12वीं के बाद तैयारी करने से आपको काफी समय मिलता है इस परीक्षा की तैयारी करने में और यह हमारे देश की सबसे कठिन परीक्षा में से एक है।

आईएएस परीक्षा की तैयारी करने से पहले यह भी जानना जरूरी है कि आई एस की परीक्षा कितने चरणों में होती है आईएएस की परीक्षा तीन चरणों में होती है पहला प्रारंभिक परीक्षा दूसरा मुख्य परीक्षा और तीसरा इंटरव्यू आपको इन तीनों की तैयारी अच्छे से करनी होती है तभी जाकर आप आईएस बन पाते हैं।

अब यह प्रश्न है 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें इसके जवाब आपको अलग-अलग मिल सकते हैं पर हमने बहुत ही रिसर्च करके और बहुत से आईएएस टॉपर के बारे में पढ़कर यह पता लगाया कि इसकी तैयारी आप 12वीं के बाद कैसे कर सकते हैं।

12वीं के बाद आईएएस की तैयारी करने के लिए आपको निम्नलिखित तरीके से कार्य करना होगा

  • ग्रेजुएशन पूरा करें।
  • किसी अच्छे आईएएस कोचिंग संस्थान में दाखिला लें।
  • कक्षा छठी से लेकर दसवीं तक की एनसीईआरटी की सारी किताबें पढ़ें।
  • करंट अफेयर के लिए रोज अखबार पढ़ें।
  • नियमित रूप से आईएएस परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों की प्रैक्टिस करें। 
  • विज्ञान और टेक्नोलॉजी से जुड़े विषयों को भी ध्यान से पढ़ें।
  • सबसे जरूरी अपनी ग्रेजुएशन के विषय को अच्छे से पढ़े यह आपकी आईएएस की तैयारी में काफी मदद करती है।

हमने देखा कि 12वीं के बाद आप आईएएस की तैयारी कैसे कर सकते हैं अब हम इन सारे बिंदुओं के बारे में विस्तार से जानेंगे कि आपको ग्रेजुएशन में कौन सा विषय लेना चाहिए? कक्षा छठी से लेकर 10वीं तक के एनसीआरटी किताब कैसे पढ़े? करंट अफेयर के लिए कौन से अखबार को पढ़ें?

12वीं के बाद आईएएस की तैयारी करने के लिए ग्रेजुएशन में कौन सा विषय लेना चाहिए?

जो छात्र आईएएस बनना चाहते हैं उनके मन में एक प्रश्न रहता है कि ग्रेजुएशन में कौन सा विषय लेना चाहिए जिससे कि उनकी आईएस की तैयारी में मदद होगी बहुत से टॉपर का मानना है कि अब ग्रेजुएशन में उसी विषय को ले जिसे आप आईएएस की परीक्षा में ऑप्शनल विषय के तौर पर रखना चाहते हैं।

इससे आपको आईएस के मुख्य परीक्षा की तैयारी बहुत ही अच्छे से हो जाती है और साथ ही साथ उस विषय की तैयारी बहुत ही अच्छे से हो जाती है।

ग्रेजुएशन आप मुख्य तीन विषयों से कर सकते हैं 

  • विज्ञान कॉमर्स आर्ट्स
  • विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन

विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन आप दो तरीके से कर सकते हैं पहला B.Sc(Bachelor of Science) और B.T ech(Bachelor of Technology)

अगर आपने अपनी 12वीं के परीक्षा विज्ञान विषय से बात की है और इसके बाद आप आईएएस की तैयारी करना चाहते हैं तो आप किसी भी विषय से ग्रेजुएशन कर सकते हैं पर अगर आपको विज्ञान विषय में बहुत ज्यादा रुचि है और आप आईएएस की परीक्षा में विज्ञान विषय को ही ऑप्शनल विषय के तौर पर रखना चाहते हैं तो आप विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन कर सकते हैं।

विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन करने से पहले इन बातों का ध्यान जरूर रखें

 पहला किसी अच्छे यूनिवर्सिटी से ही विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन करें।

यूनिवर्सिटी से विज्ञान विषय सजेशन करने का फायदा यह है कि आपको उस यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन की पढ़ाई बहुत ही अच्छे से कराई जाती है जिससे कि आपकी आईएएस ऑप्शनल पेपर की तैयारी बहुत ही बढ़िया ढंग से हो जाती है। अगर आप किसी Regional Universities और College से विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन करते हैं। 

तो यह आपके लिए फायदेमंद नहीं होगा क्योंकि उन जगहों पर आप को शिक्षक अच्छे ढंग से पढ़ाते नहीं है जिससे आपकी आईएएस की तैयारी भी अच्छे से नहीं हो पाएगी और आप अपने ग्रेजुएशन में भी ध्यान नहीं दे पाएंगे। 

इसलिए विज्ञान विषय से ग्रेजुएशन करने से पहले आप अपने यूनिवर्सिटी का चयन अच्छे से करें ताकि आपको यूनिवर्सिटी में विज्ञान विषय को अच्छे से पढ़ाया जाए और जिससे कि आपकी ऑप्शनल विषय की तैयारी अच्छे से हो जाए।

 अगर आपको टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बहुत ज्यादा रुचि है और आपने विज्ञान विषय से बारहवीं के परीक्षा दी है तो आप इंजीनियरिंग कर सकते हैं इंजीनियरिंग करने का फायदा यह है कि इसमें आपको 4 वर्ष का समय मिलता है और इन 4 सालों में आपकी इंजीनियरिंग ही पूरी होगी और आप अपनी आईएस की तैयारी में अच्छे से कर पाएंगे।

इंजीनियरिंग करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में अच्छा अवसर प्राप्त होंगे और अभी हमारा देश विकासशील देश है जहां हर दिन नए नए टेक्नोलॉजी का विकास हो रहा है जिस कारण से इस क्षेत्रों में इंजीनियरों की मांग बहुत ही बढ़ रही है।

इसलिए अगर आप 12वीं की परीक्षा विज्ञान विषय से पढ़े है तो आप अच्छी यूनिवर्सिटी से बीएससी कर सकते हैं या फिर आप बी टेक कर सकते हैं।

आर्ट्स विषय से ग्रेजुएशन

आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए आर्ट्स विषय को बहुत ही अनुकूल माना जाता है ऐसा इसलिए क्योंकि इस विषय की तैयारी आप किसी भी यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं।

इस विषय से ग्रेजुएशन करने से आपको बहुत ही ज्यादा समय अपने आईएएस की तैयारी के लिए मिल पाता है और आईएएस की परीक्षा में अधिकतर प्रश्न इतिहास सामान्य विज्ञान राजनीतिक शास्त्र अर्थशास्त्र सामाजिक शास्त्र जैसे विषय आते हैं और यह सारे विषय आपको आर्ट्स  ब्रांच से ग्रेजुएशन करने से मिलता है।

आईएएस की तैयारी के लिए 12वीं के बाद ग्रेजुएशन के लिए सबसे अच्छे विषय में से एक है “आर्ट्स”। अगर आपने 12वीं की पढ़ाई विज्ञान विषय से की हो या फिर कॉमर्स विषय से पर आपको आईएएस ऑफिसर बनना है और आपकी रूचि इतिहास सामाजिक शास्त्र राजनीति शास्त्र में भी है तो आपको ग्रेजुएशन के लिए आर्ट्स विषय को ही चुनना चाहिए इससे आपकी आईएएस की परीक्षा के मेंस पेपर की तैयारी बहुत ही अच्छे से हो जाती है और आईएएस ऑफिसर बनने के लिए mains की परीक्षा बहुत ही अहम होती है। 

 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी का सबसे पहला चरण है ग्रेजुएशन में अच्छे से पढ़ाई करें इसलिए आपने ग्रेजुएशन के विषयो का चुनाव अच्छे से करें और जिस विषय से भी आप ग्रेजुएशन कर रहे हैं उस विषय की तैयारी बहुत ही अच्छे से करें ताकि आप उसी विषय से आईएएस के ऑप्शनल पेपर की परीक्षा दे पाए यह आपके समय को भी बचाता है और आयत के परीक्षा में आपका बेहतर रिजल्ट बनाता है इसलिए आप अपने ग्रेजुएशन में भी अच्छे से पढ़ाई करें और साथ ही साथ आईएएस की परीक्षा की तैयारी करते रहें।

 क्या कोचिंग संस्थान जरूरी है आईएएस की तैयारी के लिए

 ऐसा जरूरी नहीं है कि आयत बनने के लिए आपको कोचिंग संस्थान में दाखिला लेना ही पड़ता है ऐसे बहुत से उदाहरण हैं जो कि बिना कोचिंग संस्थान के ही अपने घर पर रहकर आईएस की तैयारी करके एक आईएएस ऑफिसर बने हैं पर अगर आप सक्षम है और 12वीं के बाद से ही तैयारी करना चाहते हैं तो आप अपने ग्रेजुएशन के साथ-साथ किसी अच्छे कोचिंग संस्थान से परीक्षा की तैयारी के लिए जुड़ जाएं

 क्योंकि कोचिंग संस्थानों में आपको आईएएस ऑफिसर रहे शिक्षक पढ़ाते हैं और साथ ही साथ ऐसे शिक्षक पढ़ाते हैं जिन्होंने आईएएस की परीक्षा दी हुई है तो उनके पास परीक्षा का अनुभव होता है और वह अपने study material आईएएस परीक्षा के सिलेबस को ध्यान में रखते हुए बनाते हैं इन कोचिंग संस्थानों में आप को नियमित रूप से exam की प्रैक्टिस कराई जाएगी।

कोचिंग संस्थानों के शिक्षकों का पढ़ाने का ढंग बहुत ही कारगर होता है क्योंकि वह लोग आईएस ऑफिसर रह चुके हैं और इसके परीक्षा पास कर चुके हैं तो उनके पास अनुभव होता है कि कैसे इस परीक्षा की तैयारी की जाए और कैसे आईएएस ऑफिसर बनने के लिए पढ़ाई करनी चाहिए।

 इसलिए अगर आप सक्षम हो तो 12वीं के बाद किसी अच्छे कोचिंग संस्थान में तैयारी के लिए चले जाएं इससे आपके तैयारी में चार चांद लग जाएंगे और आप के रिजल्ट और भी बेहतर होगा।

Conclusion

इस आर्टिकल में मैंने आपको 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें? इसके बारे में बताया है। इस आर्टिकल में मैंने कोशिश किया कि आपको 12वीं के बाद आईएएस के तैयारी से जुड़ी सभी जानकारियों को दे सकूं, जैसे की 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी के लिए ग्रेजुएशन में कौन सा विषय लेना चाहिए?

उस विषय की तैयारी कैसे करनी चाहिए? क्या 12वीं के बाद आईएएस की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान जरूरी है? इन सब चीजों के बारे में इस आर्टिकल में मैंने आपको विस्तार से बताया मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको अच्छी और बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी मिली होगी।

अगर आपको हमारे आर्टिकल से अच्छी जानकारी मिली है तो हमारे आर्टिकल को शेयर जरूर करें और हमारे आर्टिकल के संबंधित कोई राय देना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅