डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

यदि आप भविष्य में डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपको यह जानना अति आवश्यक है कि डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

आज के इस आर्टिकलमें हम इन सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

  • डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?
  • डॉक्टर बनने के लिए 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?
  • डॉक्टर बनने के लिए 12वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?
  • डॉक्टर बनने के लिए 12वी के बाद NEET की तैयारी कैसे करें?

डॉक्टर बनने के लिए कौन से सब्जेक्ट लेना चाहिए?

डॉक्टर बनने के लिए सबसे आवश्यक होता है, अपना विषय चुनना। डॉक्टर बनने के लिए विद्यार्थी को science stream लेना ही आवश्यक होता है। Science stream में भी विद्यार्थी को PCB लेना अनिवार्य है।

Physics,chemistry,biology यह सभी सब्जेक्ट चुनना डॉक्टर बनने के लिए अति आवश्यक है।

विषय की बात की जाए तो विद्यार्थी को दसवीं तक साड़े विषय पढ़ने चाहिए परंतु यदि आप डॉक्टर बनना चाहते हो तो आप को दसवीं के बाद अपने विषय का चयन करना अनिवार्य है।

यदि आप science stream में भी PCM ले लेते हो तो आप medical line में नहीं जा सकते हो।

डॉक्टर बनने के लिए दसवीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

यदि आप पहले ही यह निश्चय कर चुके हो कि आपको आगे चलकर doctor ही बनना है तो doctor बनने के लिए आपको आपके दसवीं के रिजल्ट में साइंस और इंग्लिश में अधिक से अधिक नंबर लाना लाभदायक होगा।

इसके बाद हमारी जो असल MBBS की पढ़ाई शुरू होती है वह 12वी से होती है, जिसके लिए हमें दसवीं के बाद से ही सोच समझकर विषय का चयन करना होता है।

यदि हम MBBS की तैयारी करना चाहते हैं तो हमें अपने 11वीं और 12वीं में साइंस विषय चुना होता है जिसके अंतर्गत हमें physics chemistry biology और English चुनना होता है, और इन सभी विषयों में हमें अच्छे अंक लाने होते हैं। MBBS करने के लिए 12वी में हमें कम से कम 50% अंकों से पास होना अनिवार्य होता है।

इसे भी जरूर पढ़ें

डॉक्टर बनने के लिए 12वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

डॉक्टर बनने के लिए हमें सब से पहले 12वी में science stream ही करना अनिवार्य है। और 12वीं में आपको PCB चुनकर उस में अच्छे अंक लाना अनिवार्य होता है।

इसके बाद आपको आपकी 12वी पास करने के बाद बैचलर ऑफ मेडिसिन बैचलर ऑफ सर्जरी(MBBS) का कोर्स चुनना अनिवार्य है।

जिसकी तैयारी आप 12वी से ही शुरु कर देते हो,और इस कोर्स को करने के लिए हमें एंट्रेंस एग्जाम देना होता है।इस कोर्स के लिए आपको रात दिन की तैयारी चाहिए होती है।

MBBS का कोर्स अच्छे College से करने के लिए हमें एंट्रेंस एग्जाम देना होता है जिसको कि हम सभी नीट एग्जाम के नाम से जानते हैं। जितने भी छात्र MBBS करने की सोच रहे हैं या कर रहे हैं उन सभी को नीट परीक्षा के बारे में ज्ञात होना अनिवार्य है।

यह बहुत ही कठिन परीक्षा होती है जिसमें कि कुछ विद्यार्थियों का ही चयन हो पाता है। यह परीक्षा साल में एक बार आयोजित करवाई जाती है।

12वी के बाद विद्यार्थी एमबीबीएस में दाखिला लेते हैं। एमबीबीएस का कोर्स लगभग 5.5 वर्ष का होता है, इसमें विद्यार्थी को 4.5 वर्षों तक एमबीबीएस की पढ़ाई करवाई जाती है और फिर 1 वर्ष का internship करवाया जाता है। जिसमें वह senior और experienced डॉक्टर के साथ सर्जरी और डॉक्टर के दूसरे कई कामों की प्रैक्टिस करते हैं।

डॉक्टर बनने के लिए 12वीं के बाद नीट की तैयारी कैसे करें?

जब आप की 12वीं की पढ़ाई पूरी हो जाती है तो आपको एक अच्छे कॉलेज में दाखिला लेने के लिए सबसे पहले नीट का एग्जाम देना होगा।

इस परीक्षा में पास होने के बाद आपको अच्छे कॉलेज में आसानी से दाखिला मिलता है। और फिर इसके बाद आप अपनी पढ़ाई शुरू कर सकते हो।

NEET जो कि एक एंट्रेंस एग्जाम है, और जो कि हर साल आयोजित करवाया जाता है, जिसकी जानकारी आपको न्यूज़पेपर, समाचार और सोशल मीडिया के द्वारा मिल जाती है।जिसमें कि ऑफलाइन एग्जाम लिया जाता है।

यह परीक्षा कुल 180 मार्क्स की होती है, जिसमें की 45 मार्क्स का प्रश्न केमिस्ट्री से और 45 मार्क्स का प्रश्न फिजिक्स से पूछा जाता है, और 90 मार्क्स (45 प्रश्न बॉटनी से और 45 प्रश्न जूलॉजी से) का प्रश्न बायोलॉजी से पूछा जाता है।

Chemistry और physics के हिस्से में 180 अंक है। Biology 360 अंक का होता है।

हर एक सही जब आप पर 4 अंक मिलते हैं और प्रत्येक गलत जवाब पर 1 अंक का दिया जाता है, तो आपको आपकी 12वी करने के साथ-साथ आपको MBBS के entrance exam की तैयारी करना भी बहुत ही आवश्यक होता है।

इसलिए हमें हमारी 12वी बहुत ही अच्छे से और ध्यान से,पढ़ाई को पूरा समय देते हुए करना चाहिए।

ताकि हम 12वीं के साथ-साथ अपनी एंट्रेंस एग्जाम की पढ़ाई भी अच्छे से कर सके और first attempt मे ही नीट का exam देकर एक अच्छा कॉलेज चुन सकें है।

NEET परीक्षा का पूरा नाम National eligibility cum entrance test है। जो कि भारत में National testing agencies द्वारा आयोजित एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है।

जिसके माध्यम से देशभर में अलग-अलग मेडिकल कॉलेजेस में MBBS और इस जैसे कई अन्य अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट लेबल के कोर्स में दाखिला होता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए। साथ ही यह भी जाना कि डॉक्टर बनने के लिए 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? के अलावा हमने यह भी जाना कि डॉक्टर बनने के लिए 12वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए।

साथ ही हमने डॉक्टर बनने के लिए 12वी के बाद NEET की तैयारी कैसे करें इस बारे में भी चर्चा की।

आशा है आज के इस आर्टिकल को पढ़कर आपके मन में डॉक्टर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए, इससे संबंधित जो भी सवाल होंगे उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅