Google का मतलब क्या होता है? | Google Ka matlab kya hota hai

हम सभी google का इस्तेमाल आज कर रहे हैं पर क्या आपको मालूम है google का मतलब क्या होता है? (google ka matlab kya hota hai) google क्या है?

आज इस आर्टिकल में हम google का मतलब क्या है? इसके बारे में विस्तार से जानेंगे।

आज हम जानेंगे गूगल क्या है? (Google kya hai) या गूगल का मतलब क्या होता है? (Google ka matlab kya hota hai)

दोस्तों आज का यह समय आधुनिकता का समय है। Electronic gadgets, computers और internet जैसी चीजें आज हमारी जिंदगी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुकी है। Internet के इस्तेमाल से आज के समय में हम कई सारी ऐसी चीजे कर पाते हैं जो इसके बिना संभव नहीं होती।

दोस्तों कोई भी व्यक्ति जो इंटरनेट का इस्तेमाल करता हो, ऐसा संभव ही नहीं कि उसने Google का नाम ना सुना हो। इंटरनेट पर वर्तमान में किसी भी चीज की जानकारी खोजी जा सकती है, और सबसे ज्यादा जानकारी search करने के लिए google का ही इस्तेमाल होता है।

गूगल का मतलब क्या होता है? (Google ka matlab)

Google का मतलब क्या होता है?

पूरी दुनिया का सबसे बड़ा web search engine google है। Search engine एक ऐसे tool या application को कहा जाता है जो इंटरनेट पर आधारित होता है तथा लोग इसमें सूचनाओं को जल्दी और easily access कर सकते हैं। Google.com पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली वेबसाइट है, व्यापक स्तर पर इसका इस्तेमाल दुनिया भर में किया जाता है

Google सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाला search engine है मुमकिन है की आप google का मतलब क्या होता है? (google ka matlab kya hota hai?) वो भी google में ही सर्च कर रहे होंगे। आप भी अपने laptop या mobile, Computer इत्यादि पर नियमित रूप से इसका इस्तेमाल जरूर करते होंगे।

सीधे तौर पर कहा जाए तो google एक search engine है यानी इसका इस्तेमाल आप किसी भी जानकारी को सर्च करने के लिए कर सकते हैं, यहां आपको इंटरनेट पर उसके बारे में उपलब्ध सारी जानकारी मिल जाती है।

यदि goole शब्द के मतलब की बात की जाए तो असल में इसका कोई मतलब नहीं होता है। अंग्रेजी का एक शब्द था गुगल जिसका मतलब होता है वह नंबर जिसमें एक के बाद 100 शून्य हो, इस गुल शब्द को ही गलत उच्चारण करके गूगल शब्द की उत्पत्ति हुई है। कई लोगों के लिए तो internet का मतलब ही गूगल होता है, जहां में कुछ भी सर्च करके उसका कोई ना कोई उत्तर पा सकते हैं।

पहले कोई भी जानकारी पाने के लिए किताबों और उन जैसी दूसरे स्रोतों पर निर्भर रहना पड़ता था, और वहां से जानकारी लेने के लिए अधिक समय लगता था। इस जैसी समस्या google search engine के द्वारा हल गई जहां हमें चंद सेकेंड के समय में अपने लिए आवश्यक जानकारी मिल जाती है।

कई वर्षों से गूगल सर्च इंजन का इस्तेमाल दुनिया भर के लोगों द्वारा अपनी जरूरत की जानकारी लेने के लिए किया जा रहा है। आप इस वक्त मोबाइल या कंप्यूटर जिसमें भी यह लेख पढ़ रहे हैं, वह भी बिना गूगल के बेकार सा हो जाता है। Google map से लेकर play store और इस जैसी अनगिनत सुविधाएं गूगल द्वारा मुहैया कराई जाती है।

गूगल का फुल फॉर्म क्या है (Google ka full form)

असल में गूगल कोई शॉर्ट फॉर्म नहीं है जिसका कोई फुल फॉर्म या पूरा नाम होता है। आधिकारिक तौर पर गूगल अपने लिए किसी official full form का इस्तेमाल नहीं करता है। जैसा कि हमने ऊपर बताया यह एक दूसरे शब्द के गलत उच्चारण से निर्मित शब्द है। परंतु फिर भी कई बार कई जगहों पर आप गूगल का फुल फॉर्म देख सकते हैं, कई बार इससे संबंधित प्रश्न भी पूछे जाते हैं।

वहां पर google ka full form ग्लोबल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ ओरिएंटेड ग्रुप लैंग्वेज ऑफ अर्थ (global organisation of oriented group language of Earth ) होता है।

इसके अलावा giving opinions and options generously linked everywhere, Gracious Opinions of God’s Living Entities इत्यादि जैसे फुल फॉर्म भी कई जगह देखने को मिलते हैं परंतु यह सही नहीं है।

गूगल – एक कंपनी

आज के समय की बात की जाए, तो गूगल सिर्फ एक सर्च इंजन तक सीमित नहीं है वर्तमान में यह पूरी दुनिया भर की सबसे बड़ी कंपनियों में आती है। यह एक बहुराष्ट्रीय यानी मल्टीनेशनल कंपनी बन गई है जिसके कई सारे सर्विस और प्रोडक्ट मार्केट में उपलब्ध हैं।

अगर सर्च इंजन को छोड़ दें तो संभवत आप जो मोबाइल इस्तेमाल करते हैं वह एंड्रॉयड पर चलता होगा और एंड्रॉयड भी गूगल ही बनाता है। इस कंपनी के दूसरे सर्विसेस में गूगल क्लाउड कंप्यूटिंग सर्विस, ई-मेल के लिए इस्तेमाल होने वाली जीमेल, गूगल प्ले स्टोर, गूगल मैप, गूगल डॉक्स, गूगल एडवर्ड, ऐडसेंस, ऑनलाइन विज्ञापन सेवाएं, ऑपरेटिंग सिस्टम समेत दूसरी अनेको सेवाएं आती है।

दूसरे प्रोडक्ट्स में गूगल का smartphone (Google pixel lineup), जो फ्लैगशिप ग्रेड के स्मार्टफोन होते हैं, Google slate tablet, true wireless earbuds, तथा इन जैसे कुछ अन्य प्रोडक्ट भी शामिल है। इसके अलावा इंटरनेट पर वीडियो देखने के लिए जिसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है यानी कि यूट्यूब भी गूगल के अंतर्गत ही आता है यूट्यूब का मालिकाना हक गूगल के पास ही है।

गूगल के संस्थापक

इसके संस्थापक के रूप में लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन को जाना जाता है। इन दोनों के द्वारा ही इस कंपनी को लांच किया गया था। लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन कैलिफोर्निया में ” स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी ” में दो पीएचडी छात्र थे. इन दोनों ने मिलकर ” BackRub ” नामक एक search algorithm बनाया, और इसी का नाम बाद में बदलकर ( GOOGLE) गूगल कर दिया गया. इसे पहले रिसर्च के रूप में लांच किया गया था और बाद में यह एक सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन बनी।

Conclusion

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅