ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी (LLB) कैसे करें? (LLB After Graduation)

आज हम जानेंगे कि ग्रेजुएशन के बाद हम llb कैसे कर सकते हैं (Graduation ke baad llb kaise kare) तथा ग्रेजुएशन के बाद llb करने के लिए क्या-क्या qualifications की जरुरत है तथा हमें किस प्रकार से कॉलेज में एडमिशन लेनी है जिसे कि हम अपने llb की पढ़ाई को अच्छी तरह से पूरी कर पाएं।

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी (LLB) कैसे करें?

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कौन करता है?

अगर आप ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने की सोच रहे हैं तो इसके पीछे जरूर कुछ ना कुछ कारण होगी क्योंकि अगर आप शुरुआत से ही एलएलबी करने की सोचते तो आप सीधे 12वीं के बाद ही एलएलबी कर रहे  होते लेकिन आपने ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने की सोची।

इसके पीछे कारण कुछ भी हो लेकिन फिलहाल आप ग्रेजुएशन करने के बाद एलएलबी करने की सोच रहे हैं तो आज मैं आपको बताऊंगा कि आप ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कैसे करेंगे

आपको एलएलबी करने के लिए क्या-क्या करना होगा तथा किस कॉलेज में एडमिशन लेंगे या किस परीक्षा से आपको गुजरना होगा।

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कैसे करें?

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने के लिए आपको सबसे पहले एक परीक्षा को देनी होगी और उस परीक्षा में पास होने के बाद ही आप एलएलबी करने के लिए योग्य माने जाएंगे उस परीक्षा का नाम है CLAT (Common Lat Admission Test) और इस परीक्षा को नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित की जाती है।

एक बार अगर आप इस परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आप एलएलबी करने के लिए बिल्कुल तैयार हैं तथा एलएलबी करने के लिए आप योग्य भी माने जाएंगे।

CLAT परीक्षा के बिना एलएलबी

अगर आप सोच रहे हैं कि इस परीक्षा को बिना दे हम एलएलबी कोर्स कैसे करें तो इसके लिए भी कुछ उपाय हैं।

भारत में इस परीक्षा के अलावा भी और भी कई दूसरे परीक्षा होते हैं जिन्हें पास करने के बाद आप एलएलबी कर पाएंगे।

लेकिन अगर आप बिना परीक्षा दिए सीधे एलएलबी करने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए मुश्किल साबित हो सकता है।

मेरी राय माने तो ऐसे कॉलेज से भी आपको दूर रहने चाहिए जो कि बिना किसी परीक्षा के आपको एलएलबी कोर्स पूरी करने की गारंटी देता है।

CLAT की तरह दूसरी परीक्षा

CLAT के अलावा दूसरी परीक्षा जिसे पास करने के बाद आप एलएलबी कर सकते हैं।

  • LAWCET – Law Common Entrance Test
  • LSAT – Law School Admission Test
  • AILET – All India Law Entrance Test

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कितने साल का होता है?

12वीं के बाद एलएलबी करना तथा ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने में कोई बहुत ज्यादा फर्क तो नहीं होता है आपको दोनों में ही एक ही तरह के विषय को एक ही कोर्स को पढ़ाया जाता है लेकिन समय सीमा में इसमें थोड़ा अलग होता है।

अगर आप सीधे 12वीं के बाद एलएलबी करते तो एलएलबी कोर्स को पूरा करने में आपको 5 वर्ष का वक्त लगता।

लेकिन जबकि आपने ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने की सोच रहे हैं तो इस स्थिति में आपको एलएलबी की कोर्स को पूरा करने में 3 वर्ष का वक्त लगेगा।

जरूर पढ़ें:-

एलएलबी करने के लिए ग्रेजुएशन में कौन सा विषय होना चाहिए?

एलएलबी करने के लिए ग्रेजुएशन में आप कोई भी विषय चुन सकते हैं या अगर आपने अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर ली है तो आप एलएलबी कर सकते हैं।

एलएलबी करने के लिए कोई भी निश्चित विषय नहीं है आप आर्ट्स कॉमर्स या विज्ञान के स्ट्रीम में किसी भी विशेष से ग्रेजुएशन करके एलएलबी कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने पर सैलरी कितनी होगी?

यह सवाल बहुत ही आम है कि लोग को भी कोर्स करने से पहले यह जानना चाहते हैं कि इस कोर्स को करने के बाद हम जो भी नौकरी करेंगे उस नौकरी में हमें कितनी सैलरी मिलेगी।

और यह सवाल बिल्कुल जायज है हर किसी को पता होना चाहिए कि वह जो भी पोस्ट कर रहा है उसके बाद उसको नौकरी में कितनी सैलरी मिलेगी क्योंकि अगर आप कोई ऐसा कोर्स करते हैं जिसके बाद जॉब अपॉर्चुनिटी अच्छी नहीं है तो आप उसको उसको क्यों करना चाहेंगे।

एक पब्लिक प्रॉसिक्यूटर की सैलरी 20,000 से लेकर ₹300000 तक की हो सकती है यह पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करता है कि आपको किस प्रकार का केस मिल रहा है हर प्रकार के केस के लिए सैलरी अलग से निर्धारित होती है।

लेकिन ऐसा भी नहीं है कि अगर कभी आपको कोई केस नहीं मिला तो इस स्थिति में आप को सैलरी नहीं मिलेगी अगर आप एक सरकारी वकील बनते हैं तो इस स्थिति में आपको महीने की सैलरी मिलती रहेगी तथा इसके बाद में हरकेश में आपको अलग से सैलरी दी जाएगी।

आप एलएलबी करने के बाद आप चाहे तो किसी यूनिवर्सिटी में एक शिक्षक के तौर पर नौकरी कर सकते हैं यह भी आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है एलएलबी करने के बाद।

और अगर आप एक शिक्षक के रूप में किसी यूनिवर्सिटी में पढ़ाते हैं तो इसमें भी आपको अच्छी खासी सैलरी मिल जाती है।

Conclusion

अगर आप ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी करने की सोच रहे हैं तो यह बेशक आपके लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है क्योंकि कानून के क्षेत्र में भी बहुत ज्यादा अपॉर्चुनिटी है अपना कैरियर बनाने के लिए।

तथा आज के समय में छात्र और छात्राएं दोनों इसमें बहुत ही अधिक रूचि ले रही है वह भी इस कोर्स को बिल्कुल से बिल्कुल करें।

एलएलबी करने के कई फायदे हैं और इन फायदे के बारे में मैं आपको एक-एक करके बताऊंगा जिससे कि आपकी रूचि एलएलबी करने के तरफ और भी अधिक बढ़ जाएगी

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा कि आप ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कैसे कर सकते हैं अगर आपको एलएलबी से जुड़ी कोई भी समस्या हो या कोई सवाल आपके मन में हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

आज का हमारा आर्टिकल आपको कैसा लगा आप हमें जरूर बताएं इससे हमें काफी मोटिवेशन मिलती है इस तरह के और भी आर्टिकल लिखने के लिए।

16 thoughts on “ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी (LLB) कैसे करें? (LLB After Graduation)”

  1. Pingback: वकील कितने प्रकार के होते हैं? | Vakil kitne prakar ke hote hai

    1. ग्रेजुएशन के बाद रेलवे तीन वर्ष का होता है आपको तीन वर्ष लग जाएंगे LLB पढ़ाई पूरी करने

  2. Meny2018 or19 my12 pass ki thi femli problems ki wajha sy graduation nai kar pai par kiya my aab graduate hokar llb kar sakti ho agar han to kesy.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅