IIT में Admission कैसे लें? | IIT Admission me kaise le 2022

इंजीनियरिंग करने वाले छात्रों का सपना होता है कि वह आईआईटी से ही अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करें आईआईटी हमारे देश का सबसे प्रतिष्ठित और प्रसिद्ध इंजीनियरिंग संस्थान है। अगर आप नौवीं कक्षा में आया दसवीं कक्षा में है और 12वीं के बाद आप इंजीनियरिंग करना चाहते हैं, 

तो आपके मन में भी यह प्रश्न होगा IIT में एडमिशन कैसे लें? (IIT me admission kaise le), IIT में एडमिशन कैसे होता है? IIT के एडमिशन प्रक्रिया क्या है?

आज के समय में करियर चुने जाने की बात आने पर सबसे ज्यादा चुने जाने वाले professions में इंजीनियरिंग का नाम आता है, और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए आईआईटी यानी Indian institute of technology में एडमिशन मिलना हर विद्यार्थी का सपना होता है।

Engineering को प्रोफेशन के रूप में चुनने वाले विद्यार्थी आईआईटी में Admission लेने का सपना देखते हैं।

इस आर्टिकल में IIT में admission कैसे लें? IIT में दाखिला कैसे होता है? और आईडी के admission की प्रक्रिया क्या है इसके बारे में विस्तार से जानेंगे अगर आप भी IIT में admission कैसे लें? इसके बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़ें इसमें आपको सारी जानकारी मिलेगी।

IIT में Admission कैसे लें?

भारत में आईआईटी संस्थानों में Admission के लिए क्या प्रक्रिया है?, उसके लिए क्या परीक्षाएं आयोजित होती है?, इसके लिए क्या योग्यताएं चाहिए इत्यादि इन सभी के बारे में जानेंगे?

IIT क्या है?

आईआईटी में Admission की प्रक्रिया जानने से पहले संक्षिप्त में यह जान लेते हैं कि IIT है क्या।

IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Indian Institute of Technology) है, जिसे हिंदी में “भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान” कहते है।

कई बार ऐसा हो सकता है कि जब हम सुनते हैं कि आईआईटी की पढ़ाई, तो लगता है कि यह कोई course है, जिसमें इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराई जाती है।

IIT कोई कोर्स नहीं, एक शिक्षण संस्थान है, जो विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग की पढ़ाई करवाता है। 

IIT एक ऐसा संस्थान है जहाँ से आप इंजीनियरिंग की पढाई कर सकते है, course में आप यहां से b.tech, m.tech इत्यादि करते हैं। इंजीनियरिंग करने के लिए IIT भारत का सर्वश्रेष्ठ संस्थान है।

इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए iit देश ही नहीं बल्कि दुनिया के शीर्ष शिक्षण संस्थानों में है, दूसरे देशों से भी छात्र इन संस्थानों में पढ़ने आते हैं।

भारत में कुल 23 आईआईटी संस्थान है, इनमें दाखिले के लिए राष्ट्रीय स्तर पर प्रवेश परीक्षा आयोजित होती है, जिसमें आए अंकों के आधार पर आपको इन iit’s में दाखिला मिल सकता है, दाखिले से संबंधित प्रक्रिया के बारे में नीचे विस्तार से जानेंगे।

IIT की फीस अधिक होती है और भी प्राइवेट कॉलेज की तुलना में इसकी फीस कम ही होती है। पर यहां पर आपको बहुत सारे छात्रवृत्ति प्राप्त होती है साथ ही साथ  आपको बैंक भी बहुत ही आसानी से एजुकेशन लोन प्रदान करती है जिससे कि आप यहां पर अपनी पढ़ाई अच्छे से कर सकते हैं और यह हमारे देश का सबसे अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज है।

IIT में Admission कैसे ले सकते हैं?

यदि आसान शब्दों में बात करें कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए IIT institutes में दाखिला कैसे लिया जा सकता है तो जो भी विद्यार्थी देश में आईआईटी संस्थानों से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं, पहले उन्हें 12वीं पास करके IIT JEE की परीक्षा के लिए अप्लाई करना होता है।

IIT में admission के लिए JEE mains और JEE advanced की परीक्षा देनी होती है। JEE mains की परीक्षा के लिए दिसंबर के आखिरी सप्ताह में रजिस्ट्रेशन फॉर्म निकाला जाएगा। IIT में admission के लिए JEE mains  की परीक्षा फरवरी महीने से शुरू होगी यह परीक्षा 4 slot में होगी।

JEE mains की परीक्षा पास करने के बाद JEE advance की परीक्षा देनी होती है। JEE advanced के लिए रजिस्ट्रेशन मई के पहले सप्ताह से शुरू हो जाएगी और यह परीक्षा जून के आखिरी सप्ताह में हो सकती है।

IIT में एडमिशन के लिए आपको JEE (Joint Entrance Exam) को अच्छे मार्क्स से अनिवार्य रूप से पास करना होता है।

इसमें JEE MAINS और JEE ADVANCE होता है। अगर आपको IIT कॉलेज में एडमिशन लेना है तो सबसे पहले JEE में MAINS qualify करना होगा , उसके बाद आप JEE ADVANCED के एग्जाम में बैठ सकते हैं। 

यदि ऐसा होता है कि MAINS qualify करने के बाद आप Advance क्वालीफाई नहीं कर पाते हैं, तो आपका एडमिशन IIT में ना होकर NIT में होता है, जो कि आईआईटी के बाद इंजीनियरिंग के लिए दूसरे सबसे अच्छा शिक्षण संस्थान है।

इसीलिए आईआईटी में दाखिले के लिए JEE की परीक्षा की तैयारी बहुत अच्छे से करनी चाहिए। Means और advance clear करने वालों और उनमें भी टॉप विद्यार्थियों को ही आईआईटी में दाखिला मिलता है।

JEE की परीक्षा देश की सबसे कठीन परीक्षाओं में से होती है, जिसके लिए बहुत ज्यादा मेहनत चाहिए।

ऐसे में जिन विद्यार्थियों का सपना शुरू से ही एक इंजीनियर बनने का होता है, वह आईआईटी में दाखिले के लिए दसवीं के बाद से ही JEE की प्रिपरेशन शुरू कर देते हैं।

इंजीनियरिंग की तैयारी के लिए KOTA जैसे जगहों के बारे में शायद आपने भी जरूर ही सुना होगा।

अगर आपको IIT से ही अपनीं इंजीनियरिंग की पढाई करनी है, तो आपको JEE MAIN और JEE ADVANCED दोनों परीक्षाओ को अच्छे मार्क्स के साथ पास करना होगा , तब ही आपको एक अच्छा IIT कॉलेज मिल पायेगा। 

IIT में Admission के लिए योग्यता

IIT institutes में दाखिले के लिए सबसे पहली योग्यता में तो विद्यार्थीयों को JEE की परीक्षा तो अनिवार्य रूप से पास करनी ही होती है, और इस परीक्षा में विद्यार्थी 12वीं उत्तीर्ण होने के बाद ही बैठ सकते हैं।

इसमें भी विद्यार्थी का science stream से physics chemistry और mathematics के साथ पढ़ें होना जरूरी होता है।

IIT में एडमिशन के लिए class 10th के मार्क्स से कोई खास लेना-देना नहीं होता है, अगर आपके क्लास 10th में कम मार्क्स हैं, तो कोई खास दिक्कत नहीं होती। 

लेकिन कक्षा 12वीं की बात करें तो इसमें आपको कम से कम 75% अंक तो लाना ही होता है, इससे कम मार्क्स से आप JEE की परीक्षा में बैठने के योग्य नहीं होते हैं।

JEE के result में उम्मीदवारों की all India rank घोषित की जाती है, आपका rank जितना अच्छा होगा, उतने ही अच्छे IIT में आपको दाखिला मिलेगा।

देश के शीर्ष आईआईटी संस्थानों में आईआईटी मुंबई, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी मद्रास जैसे आईआईटी संस्थानों का नाम आता है।

IIT में Admission के लिए JEE Exam Pattern

जेईई की परीक्षा में आपको जेईई मेंस और जेई एडवांस देना होता है जेईई मेंस में 2 पेपर होते हैं और जेई एडवांस में भी 2 पेपर।

JEE mains exam paper-1 में physics chemistry और maths के optional questions रहते हैं जिनके लिए 3 घंटे का समय होता है।

यह परीक्षा देश के सभी शहरों के केंद्रों में आयोजित की जाती है, इसमें हिंदी और इंग्लिश दोनों का ही विकल्प रहता है।

Candidate application form भरते समय प्रश्नपत्र के लिए भाषा का चयन कर सकते है।

प्रत्येक सही प्रश्न के उत्तर के लिए 4 अंक और हर गलत जवाब के लिए 1/4 की negative marking की जाती है।

जेईई मेन परीक्षा (पेपर-2) में maths, aptitude और ड्राइंग विषयों से प्रश्न होते हैं और इसके लिए 3 घंटे का समय दिया जाता है, बाकी सब कुछ पहले पेपर की तरह ही होता है।

JEE advance की परीक्षा कंप्यूटर आधारित यानी CBT मोड में आयोजित होती है।

इसमें भी advanced paper-1 और advanced paper-2 रहता है, प्रत्येक पेपर में physics,chemistry और maths से प्रश्न पूछे जाते है।

Candidates को हर section के प्रश्नों का उत्तर देना होता है। उम्मीदवार अपने अनुसार लैंग्वेज मीडियम में हिंदी या इंग्लिश चुन सकते हैं।

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने IIT में admission कैसे लें? इसके बारे में जाना है इस आर्टिकल में मैंने आपको बताया है कि आप IIT में admission कैसे ले सकते हैं? IIT में admission के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती है? IIT क्या है?

मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको IIT में admission कैसे लें? इसके सारी जानकारी मिल गई होगी। अगर आपको हमारे आर्टिकल अच्छा लगा और जानकारी भरा लगा तो हमारे आर्टिकल को शेयर जरूर करें और हमारे आर्टिकल के संबंधित कोई राय देना चाहते तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅