जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है

आज के समय में जहां हर कोई कुछ ना कुछ करना चाहता है। और अपना भविष्य उज्जवल बनाना चाहता है। तो ऐसे में विद्यार्थी अपना भविष्य बनाने के लिए सबसे पहले government job के लिए तैयारी करते हैं।

Government job के बाद अगर की जा रही है तो सबसे ऊंचा पर्दे UPSC का माना जाता है। UPSC में सबसे अच्छा पोस्ट IAS का होता है। जिसे की UPSC के exam में rank wise IAS की पोस्ट दी जाती है। 

तो आज हम इस article में जानेंगे कि जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है? आईएएस बनने के लिए सबसे अच्छा सब्जेक्ट कौन सा है? हमें जानकारी प्राप्त करनी चाहिए तथा या भी जानेंगे की उन subjects में किस किस टॉपिक से सवाल आता है।

इन सभी subjects पर आज हम इस article में चर्चा करेंगे और इन सभी के जवाब ढूंढेंगे।

जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है

IAS की परीक्षा सबसे कठिन परीक्षा होती है और इस परीक्षा में हमें बहुत सारे विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं, पर ऐसे बहुत से विषय होते हैं जो कि आईएएस की परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण होते है। सामान्य विज्ञान, इतिहास, टेक्नोलॉजी, अर्थशास्त्र, राजनीति शास्त्र, जैसे विषय IAS की परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण होते हैं।

जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है
  • सामान्य विज्ञान
  • भूगोल
  • इतिहास
  • टेक्नोलॉजी
  • अर्थशास्त्र
  • राजनीतिक शास्त्र

तो आइए एक-एक करके इन सारे subject के बारे में जानेंगे और यह भी जानेंगे कि इन subjects में से क्या क्या टॉपिक और कितने अंकों के लिए आता है।

सामान्य विज्ञान

सामान्य विज्ञान एक बहुत ही अहम subject है जिससे UPSC के exam में काफी सारे प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें से लगभग 8 प्रश्न पूछे जाते हैं। इन सभी प्रश्न को तैयार करने के लिए दसवीं तक का विज्ञान प्राप्त करना आवश्यक है। साथ ही साथ कुछ अन्य विज्ञान से जुड़ी जानकारियां लेना भी आवश्यक है।

भूगोल

भारत और विश्व का भौतिक, सामाजिक, आर्थिक भारत और दुनिया के से जुड़े भूगोल की हर आयाम अवश्य है। इसमें से लगभग 15 प्रश्न पूछे जाते हैं। UPSC की परीक्षा में भारतीय भूगोल से काफी प्रश्न पूछे जाते हैं। यह subject थोड़ा साइंटिफिक भी है इसलिए इसको समझने में थोड़ी कठिनाई होती है।

इसे ज़रूर पढ़ें

आईएएस बनने के लिए सबसे अच्छा सब्जेक्ट कौन सा है?

  • हिमालय और अन्य पर्वत
  • खनिज संपदा
  • भारत की नदियां
  • भारतीय मानसून प्रणाली
  • भारत में बसे अलग-अलग आदिवासियों
  • जनसांख्यिकीय और जनसंख्या का डेटा 

इस सेक्शन में भौतिकी भूगोल के मौलिक समझना बहुत ही आवश्यक है।

इसके अलावा विश्व महत्वपूर्ण जल धाराएं के बारे में भी जानना अनिवार्य है।

प्रशांत महासागर बेल्ट,

  • प्रमुख व्यावसायिक और औद्योगिक क्षेत्र 
  • मध्य अटलांटिक कटक
  • महत्वपूर्ण बंदरगाह 

निर्यातक 

उत्पादक

इतिहास

UPSC में एक अहम भूमि का इतिहास का subject भी निभाता है इसमें से तकरीबन 10 से 12 प्रश्न पूछे जाते हैं। ऐसे दो भागों में बांटा गया है।

1. history of India

2. Indian National movement

History of India subject में medieval history, ancient history और modern history से साड़ी टॉपिक्स होते हैं। मॉडर्न हिस्ट्री में इंडियन नेशनल मूवमेंट जुड़े टॉपिक्स पर ज्यादा ध्यान देना होगा।

विद्यार्थियों को इंडियन नेशनल मूवमेंट बहुत ही अच्छे से पढ़ना चाहिए, ज्यादातर टॉपिक्स इसी से होते हैं क्योंकि exam में आते हैं।

Ancient history में 4 से 6 प्रश्न पूछे जाते हैं

एनसीईआरटी हिस्ट्री में जो टॉपिक आते हैं वह है:

  • वैदिक काल
  • मंदिर निर्माण का वास्तुकला
  • मौर्य वंश
  • बौद्ध तथा जैन धर्म की विशेषताएं
  • प्राचीन सभ्यता
  • प्राचीन काल में दक्षिण भारत के राज्य
  • प्रतिहार, चोल,चेरा, पंड्या समाज
  • गुप्त वंश
  • संगम साहित्य इतिहास

 अब हम जानेंगे मिडाइवल हिस्ट्री से कितने प्रश्न आते हैं और कौन कौन से टॉपिक होते हैं जो कि exam के संदर्भ से पढ़ना आवश्यक है।

मिडिवल हिस्ट्री से तकरीबन 2 से 4 प्रश्न पूछे जाते हैं

  • मुगल काल, अकबर के शासन के बारे में
  • सूफी आंदोलन
  • प्रमुख युद्ध
  • यूरोपियन शक्तियों का भारत आगमन तथा इनके बीच संघर्ष
  • प्रमुख शासकों के प्रशासन के बारे में
  • राजस्थान में शासन
  • तुगलक वंश
  • दिल्ली सुल्ताना पीरियड

अब हम सब जानेंगे मॉडर्न हिस्ट्री में कौन-कौन से इंर्पोटेंट टॉपिक्स हैं और इनमें से कितने प्रश्न पूछे जाते हैं।

मॉडर्न हिस्ट्री में एक से दो प्रश्न पूछे जाते हैं

  • संघर्ष के नेता
  • 1857 के संघर्ष के कारण
  • मुगल साम्राज्य का पतन
  • 1857 के बाद कंपनी का शासन और बदलाव
  • भारत में कंपनी शासन का उदय
  • सामाजिक आंदोलन तथा से जुड़े नेता
  • कांग्रेस पार्टी के संगठन से जुड़े तथ्य

यह सभी टॉपिक्स UPSC के exam के संदर्भ से बहुत ही महत्वपूर्ण माने जाते हैं।

टेक्नोलॉजी

विज्ञान के सेक्टर में technology development पर भी ध्यान देना चाहिए। इस सेक्टर में नए-नए invention तथा innovation तैयार करने चाहिए, और उस invention या innovation का principal क्या है उसे भी तैयार करना अनिवार्य है।

अर्थशास्त्र:

इस सेक्टर में एक टॉपिक बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है। Economic and social development का मतलब है कि भारत का economic development कैसा हुआ है, और उसका सामाजिक विकास पर क्या असर हुआ है।

Sustainable development का basic concept बहुत ही महत्वपूर्ण है। कई बार इसकी definition exam में पूछे जा चुकी है। इसके अलावा विज्ञान में sustainable development से जुड़े important events का खास ध्यान रखा जाता है।

Poverty का अर्थ है कि विश्व में poverty की परिकल्पना क्या है। तथा इससे जुड़ी पॉवर्टी लाइन की definition क्या है, आदि।

राजनीतिक शास्त्र

राजनीतिक शास्त्र एक IAS के संदर्भ से एक बहुत ही important subject है। इस subject से लगभग 10 से 15 सवाल आते हैं। जो कि आई एस के ias के prelims में पूछे जा सकते हैं।

Political system, public policy, constitution, panchayati Raj आदि। इसका मतलब यह है कि यह है कि यह आपसे constitution की पूरी जानकारी होने की अपेक्षा रखती हैं।

संविधान कैसा कार्य करता है?

  • देश कैसे चलता है।
  • केंद्र तथा राज्य सरकार संबंधित।
  • कानून कैसे बनता है।
  • सरकार कैसे काम करती है।

यह सभी टॉपिक्स IAS के संदर्भ से बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है।

Conclusion

आज के इस article में हमने जाना कि IAS बनने के लिए कौन-कौन से subject महत्वपूर्ण होते हैं, जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है और आईएएस बनने के लिए सबसे अच्छा सब्जेक्ट कौन सा है? उन सारे subjects का नाम जाना साथ ही उन सभी subject के बारे में चर्चा भी की।

इस article के द्वारा हमने IAS से जुड़े जो भी subject है उनके टॉपिक्स और subjects के बारे में बताने की कोशिश की है आशा है इस article को पढ़कर आपके मन में IAS के subjects को लेकर जो भी सवाल होंगे उन सभी के जवाब मिल गए होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅