IPS की सैलरी कितनी होती है? | IPS ki salary kitni hoti hai?

आज आप आईपीएस की सैलरी कितनी होती है? (IPS ki salary kitni hoti hai?), आईपीएस ऑफिसर की सैलेरी कितनी है? (IPS officer ki salary kitni hai?) इसके बारे में विस्तार से जानेंगे।

आज के इस आर्टिकल में मैं आपको IPS यानी Indian Police Services सेवा अपने आप में केवल एक पद है जो कि State Police और सभी भारतीय Central Armed Police Force के कर्मचारियों को बल प्रदान करता है, लेकिन बड़े पद के साथ ही बड़ी जिम्मेदारियां भी आती है।

हर जिले में एक आईपीएस अधिकारी ही अधिकारियों के पुलिस अध्यक्ष (SP) और पुलिस उपायुक्त (DSP) का प्रमुख होता है। इसके अलावा क्षेत्र के पुलिस तंत्र में किसी भी प्रकार की खराबी को सुलझाना भी एक आईपीएस अधिकारी के कर्तव्य जिम्मेदारियों का हिस्सा होता है।

तो आज मैं आपको IPS ki salary के बारे में बताने जा रही हूँ, तथा IPS सैलरी के अलावा और कौन-कौन से फायदे मिलते हैं? इनके बारे में मैं आपको बताऊंगी और आईपीएस ऑफिसर को रिटायरमेंट के बाद कितना पेंशन मिलता है? इस बारे में भी में चर्चा करने जा रही हूं।

अगर आप भी आगे चलकर आईपीएस बनना चाहते हैं या आपका लक्ष्य आईपीएस बनने का है तो आप इस आर्टिकल को अच्छे से पढ़िएगा। इसके जरिए IPS ऑफिसर क्यों बनना चाहिए? इसके बारे में जानेंगे।

यह बात आपको पता होना चाहिए कि एक IPS ऑफिसर हमेशा duty के दौरान वर्दी पहनते हैं और एक IPS के साथ पूरी पुलिस फोर्स चलती है। जब भी हम आईपीएस बनते हैं, तब हमें Squad of Honour Award से सम्मानित किया जाता है।

IPS ऑफिसर बनने के बाद एक IPS ऑफिसर की कानून और व्यवस्था बनाए रखने और क्षेत्र में अपराध रोकने की जिम्मेदारी होती है। तथा यह आपको पता होना बहुत जरूरी है कि आईपीएस का नियंत्रण करता गृह मंत्रालय होता है, IPS एक बहुत ही समान्नित पद होता है तो चलिएअब हम IPS की सैलरी के बारे में जानते हैं।

IPS की सैलरी कितनी है? (IPS ki salary kitni hai)

भारतीय पुलिस सेवा IPS के लिए पहला scale junior scale होता है, इसमें IPS ऑफिसर को 15,600 से 39,100 +ग्रेड पे के रूप में 5,400 प्रतिमाह मिलता है। IPS ऑफिसर को प्रशिक्षण अवधि से लेकर उनके वेतन वृद्धि तक इस scale पर रखा जाता है। यह सैलरी maximum 1,77,500 तक हो सकती है।

वहीं दूसरी तरफ senior scale के अंतर्गत 3 parts होते हैं जो इस प्रकार है:-

1. Senior time scale:-

जब किसी IPS ऑफिसर को उसका पहला प्रमोशन मिलता है तो वह senior time scale का वेतन प्राप्त करता है ,इस स्केल में आईपीएस ऑफिसर को 15,600 से 39,100 + ग्रेड पे 6,600 प्रतिमाह मिलता है। यह सैलरी maximum 2,08,700 तक हो सकती है।

2. Junior Administrative Grade:-

जब एक IPS ऑफिसर को Superintendent of police के पद पर पदोन्नत किया जाता है, तो उन्हें Junior Administrative Grade प्रदान किया जाता है ।जिसमें IPS ऑफिसर को 15,600 से 39,100 + ग्रेड पे 7600 मिलता है। Deputy Commissioner of Police को भी यही वेतन दिया जाता है ,यह सैलरी maximum 2,09,210 हो सकती है।

3. Selection Grade:-

यह Payband IV है ,जो IPS ऑफिसर को दूसरे प्रमोशन के लिए दिया जाता है। Selection Grade में IPS ऑफिसर को 37,400 से 67,000 + ग्रेड पर 8,700 प्रतिमाह मिलता है। Senior Supridentant of police को भी यही वेतन मिलता है, यह सैलरी maximum 2,15,900 तक हो सकती है।

Super Time scale किसी भी आईपीएस ऑफिसर के next प्रमोशन पर लागू होता है, यह भी दो पार्ट में बटे हुए हैं:-

1. Deputy Inspector General( DIG) of Police जो कि payband IV – Rs 37,400-67,000+ Grade Pay Rs.8, 900 प्रतिमाह है। राज्यों में किसी range के DIG को यही वेतन मिलता है, यह सैलरी maximum 2,16,600 तक हो सकती है।

2. Inspector General (IG) of Police scale जो कि payband IV – Rs 37,400-67,000+ Grade Pay Rs.10,000 प्रतिमाह है। IG पुलिस को यही वेतन मिलता है। यह सैलरी maximum 2,18,200 तक हो सकती है।

Above Super Time scale:-

अधिकांश आईपीएस ऑफिसर Above Super Time scale तक पहुंचते-पहुंचते रिटायर हो जाते हैं बहुत ही कम आईपीएस ऑफिसर इससे आगे promote हो पाते हैं। Above super Time Scale के भी 3 parts है जो इस प्रकार है:-

1. Additional Director General of Police Scale – यह Scale Payband V यानी Rs.67000-79000/ होता है। साथ ही इसमें कोई ग्रेड पर प्रदान नहीं किया जाता। यह सैलरी maximum 2,24,100 हो सकती है।

2. HAG+Scale – यह Scale Payband VI यानी Rs 75500-80000 होता है ,साथ ही इसमें कोई ग्रेड पर नहीं होता है। यह सैलरी maximum 2,24,400 तक हो सकती है।

3. Apex Scale- यह वेतनमान Director General Of Police (DGP) को दिया जाता है, डीजीपी किसी भी राज्य का शीर्ष पुलिस अधिकारी होता है ।इस स्केल का payband 80,000 होता है तथा डीजीपी को इसी scale के अनुसार 2,25,000 वेतन मिलता है।

खास बात यही है कि Intelliagence Bureau Director, बीएसएफ डायरेक्टर जनरल, CRPF डायरेक्टर जनरल , CBI डायरेक्टर, कमिश्नर ऑफ पुलिस दिल्ली को भी यही वेतन मिलता है।
यानी साधारा भाषा में कहे तो आईपीएस ऑफिसर का वेतन ₹56,100 प्रति माह से लेकर ₹2,25,000 प्रति माह तक हो सकता है।

IPS officer perks in hindi

IPS ऑफिसर को सैलरी के अलावा भी बहुत सारी सुविधाएं प्रदान की जाती है वह इस प्रकार है:-

1. आवास
2. आधिकारिक वाहन
3. Paid study Leave
4. स्वास्थ्य सुविधाएं
5. Extra Ordinary Leaves .
6. Security Guards facility
7. Bill facility
8. Lifetime pension and superannuation Benefits
तो आइए इन मुख्य बिंदुओं पर चर्चा करते हैं:-

a) आवास (Residence):-

लगभग सभी जिलों में IPS ऑफिसर के लिए बंगला आरक्षित होता है। अधिकांश जिलों में SP का ऑफिस तथा घर एक बिल्डिंग में होते हैं। यह बंगले काफी बड़े होते हैं और इनके रखरखाव के लिए बहुत से नौकर भी सरकार द्वारा प्रदान किए जाते हैं ।इनमें माली सफाई कर्मी इत्यादि लोग शामिल होते हैं।

b) आधिकारिक वाहन:-

शुरुआती तौर पर एक IPS ऑफिसर को jeep प्रदान की जाती है ,परंतु प्रमोशन के साथ कार भी मिल जाती है ,वाहन का ड्राइवर भी सरकार द्वारा ही तैनात किया जाता है।

c) Paid Study Leave:-

IPS ऑफिसर को 2 साल तक की paid study leaves प्रदान की जाती है ।यह study leave इंडिया में या विदेश में पढ़ाई करने के लिए मिलती है, इसमें चाहे वह तो विदेश जाकर अपना study कोर्स कर सकते हैं।

d) स्वास्थ्य सुविधाएं:-

IPS ऑफिसर को उनके तथा उनके परिवार के लिए fully paid मेडिकल benefits भी प्रदान किए जाते हैं ,जो भी illness को कवर करते हैं। साथ ही साथ वह चाहे तो Fully paid medical leave भी ले सकते हैं।

e) extra ordinary leaves:-

IPS ऑफिसर को सभी प्रकार के leaves खत्म होने के बाद extra ordinary leaves प्रदान की जाती है ।परंतु यह leaves without pay होती है तथा इंक्रीमेंट के लिए यह पीरियड काउंट नहीं किया जाता ,यह leaves 3 month से लेकर 18 month तक हो सकती है।

f) Security Guards facility :-

एक आईपीएस ऑफिसर को हमेशा ही सिक्योरिटी गार्ड प्रदान किए जाते हैं ,सिक्योरिटी गार्ड घर के मेन गेट पर तथा घर के बाहर भी तैनात रहते हैं, सिक्योरिटी गार्ड के साथ साथ घर के दैनिक रोजमर्रा के कामकाज के लिए दो नौकर भी दिए जाते हैं।

g) Bills facility:-

IPS ऑफिसर को एक तय सीमा तक इलेक्ट्रिसिटी एंड फोन का बिल नहीं देना होता ,यह तय सीमा इतनी ज्यादा है कि आमतौर पर आईपीएस ऑफिसर के लिए यह सुविधाएं फ्री हो जाती है।

h) Lifetime passion and superannuation benefits:-

एक आईपीएस ऑफिसर की सुविधाएं तब भी जारी रहती है ,जब वह अपना कार्यकाल पूरा कर चुका होता है ।जब तक वह जीवित है तब तक उन्हें आजीवन पेंशन से सम्मानित किया जाता है और सेवानिवृत्ति के समय अपनी सेवाओं के लिए काफी पैसे भी मिलता है ,जिससे कि वह आराम से सुखी जीवन व्यतीत कर सकते हैं।

IPS ऑफिसर पेंशन (IPS officer pension)

आपको यह पता होगा कि IPS ऑफिसर को अपने कार्यकाल पूरा करने के बाद भी उन्हें पेंशन मिलता है जो कि सरकार के द्वारा दी जाती है, यह उनके नौकरी के द्वारा जीपीएस कटाने पर निर्भर करता है।

उन्होंने कितना जीपीएस कटाया है ,यह उस पर निर्भर करता है ,इसी के अनुसार उन्हें पेंशन दिया जाता है। और वर्तमान समय में तो जीपीएस इतना कम हो गया है कि अब टेंशन लगभग ना के बराबर हो गया और भविष्य में ऐसा लगता है कि अब बिल्कुल बंद हो जाएगा।

Conclusion

आज के आर्टिकल में मैंने आपको IPS की सैलरी कितनी होती है? IPS को सैलरी के अलावा और कौन-कौन सी सुविधाएं दी जाती है? IPS को पेंशन कितना दिया जाता है? इन सभी बातों को बताया, अगर आपको यह जानकारी जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें । अगर आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर कर पूछ सकते हैं।

धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Game खेलकर पैसे कैसे कमाए