LLB के लिए कितने परसेंट चाहिए? (LLB ke Liye kitne percentage chahiye)

LLB के लिए कितने परसेंट चाहिए? (LLB ke Liye kitne percentage chahiye) LLB के लिए कितने प्रतिशत चाहिए?

दोस्तों आज के समय में अगर आप अपना करियर law यानी कानून से संबंधित किसी भी क्षेत्र में बनाना चाहते हैं।तो उसके लिए आपको एलएलबी की पढ़ाई करनी होती है।दोस्तों आज के समय में बहुत से छात्र लॉ क्षेत्र का चुनाव अपने करियर के रूप में करना चाहते हैं।इस क्षेत्र में छात्र मुख्यता एडवोकेट यानी वकील बनने की इच्छा रखते हैं।

अगर आपकी भी रुचि वकील यानी एडवोकेट बनने में है या कानून यानी लॉ क्षेत्र से संबंधित किसी भी नौकरी में कार्यरत होने का है।तो आपने एलएलबी कोर्स के बारे में जरूर सुना होगा। जो भी छात्र लॉ क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता  हैं, उसके लिए एलएलबी कोर्स से संबंधित हर प्रकार की बातों की जानकारी होना आवश्यक होता है।

LLB ke Liye kitne percentage chahiye

आज इस लेख में हम एलएलबी कोर्स से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण सवालों जैसे एलएलबी क्या है? LLB कितने वर्षों का होता है? LLB ke Liye kitne percentage chahiye, इत्यादि एवं मुख्यता एलएलबी करने के लिए आपके कितने परसेंटेज मार्क्स होने चाहिए इस बात पर चर्चा करेंगे-

LLB के लिए कितने परसेंट चाहिए? (LLB ke Liye kitne percentage chahiye)

दोस्तों अगर बात करें सीधा सीधा एलएलबी में दाखिले के लिए जरूरी परसेंटेज की तो यह सभी जगह एक समान नहीं होता अलग-अलग कॉलेजेस इसका निर्धारण थोड़े अलग-अलग स्तर पर कर सकते हैं।

12वीं के बाद

अगर आप 12वीं के बाद law छेत्र में जाने का सोचते हैं तो आपको ba.llb में दाखिला लेना होगा जिसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं में  किसी भी स्ट्रीम के किसी भी विषय में कम से कम 50% मार्क्स होनी चाहिए अगर आप सामान्य वर्ग के हैं तो वही sc-st और ओबीसी कास्ट को कुछ छूट दी जा सकती है।

Ba.llb सरकारी एवं प्राइवेट दोनों ही कॉलेज से किया जा सकता है परंतु प्राइवेट कॉलेजेस में  फीस अधिक हो सकती है जिस कारण छात्र सरकारी कॉलेज से ही ba.llb करना ज्यादा prefer करते हैं। 12वीं में आए मार्क्स के साथ साथ आपको कॉलेज में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी है क्वालीफाई करना होता है जो उसी स्तर पर आयोजित होती है।

Minimum Percentage

इसके अलावा न्यूनतम मार्क्स परसेंटेज अलग-अलग राज्यों एवं कुछ कॉलेजों में अलग अलग हो सकता है। इसके बगैर अगर आप स्नातक हो चुके हैं तो आप एलएलबी करने के योग्य हो जाते हैं जिसके लिए भी आपका ग्रेजुएशन में सामान्य वर्ग के लिए अपने  सब्जेक्ट में कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए। एवं sc-st आदि श्रेणी में आने पर आपको इसमें 5% तक की छूट मिल सकती है।

यह minimum percentage भी अलग-अलग राज्यों के अलग-अलग कॉलेज में थोड़ा कम या ज्यादा हो सकता है इसका निर्धारण यूनिवर्सिटीज अपने स्तर पर करती हैं। आपका ग्रेजुएशन में बीएससी बीकॉम या b.a. आदि में से किसी मे भी जो मुख्य विषय रहा है इसमें कम से कम 50% के साथ स्नातक की डिग्री प्राप्त करके आप एलएलबी के लिए एलिजिबल हो जाते हैं।

B.A LLB और LLB

दोस्तों का सबसे पहले बात कर एलएलबी कोर्स की तो बहुत से छात्रों को एलएलबी और ba llb में कन्फ्यूजन रहता है।

B.A LLB क्या है?

दोस्तों अगर आप अपनी 12वीं कक्षा पूरी हो जाने के बाद ही लॉ क्षेत्र में आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं तो उस स्थिति में आपके पास एलएलबी करने का नहीं बल्कि ba llb करने का विकल्प होता है। अर्थात आप सीधा 12वीं के बाद एलएलबी नहीं कर सकते 12वीं के बाद लॉ की पढ़ाई करने के लिए बीएएलएलबी का कोर्स होता है।

अवधि (Duration)

बी ए एल एल बी कोर्स की अवधि 5 वर्ष की होती है।दोस्तों यह बात मायने नहीं रखते कि आपने अपनी 12वीं कक्षा में किस स्ट्रीम से पढ़ाई की है चाहे आप विज्ञान स्ट्रीम के छात्र रहे हो चाहे कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र हों, या चाहे आप आर्ट्स स्ट्रीम के छात्र रहे हो। किसी भी स्ट्रीम के किसी भी हमेशा से अगर आपने मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास की है तो आप ba.llb कोर्स को करने के योग्य हो जाते हैं।

BA LLB का चुनाव करने पर सबसे बेहतर विकल्प किसी सरकारी कॉलेज से इसे करने का होता है और उसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है जिसमें उत्तीर्ण होने पर आपका दाखिला ba.llb में हो जाता है।

LLB क्या है?

उसके बाद अगर बात करें एलएलबी की तो यह आप ग्रेजुएशन के बाद कर सकते हैं। एलएलबी कोर्स की अवधि 3 वर्ष की होती है। Ba.llb की ही तरह एलएलबी करने के लिए भी यह बात मायने नहीं रखती कि आपने किस सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन किया है।

बीएससी बीकॉम या b.a. के किसी भी विषय से अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त कर लेने के बाद अगर आपकी रुचि लॉ  छेत्र में करियर बनाने की होती है तो आप एलएलबी कोर्स को कर सकते हैं। इसके लिए भी आपको किसी सरकारी लॉ कॉलेज में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम में उत्तीर्ण होना होता है।इसके अलावा आप पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद भी एलएलबी कर सकते हैं उस स्थिति में आपके एलएलबी कोर्स की अवधि 1 वर्ष की होती है।

B.a. एलएलबी या एलएलबी कर लेने के बाद आप स्टेट बार एसोसिएशन से किसी एडवोकेट यानी वकील के रूप में नियुक्त  होने के योग्य हो जाते हैं।

Conclusion

जो विद्यार्थी कानून की पढ़ाई करना चाहते हैं और एलएलबी करना चाहते हैं उनके लिए यह पोस्ट बहुत ही महत्वपूर्ण है इस पोस्ट में हमने LLB ke liye kitne percentage chahiye? एलएलबी की पढ़ाई के लिए कितने प्रतिशत अंक चाहिए एलएलबी क्या होता है एलएलबी आप कब कर सकते हैं इन सब के बारे में बहुत ही विस्तार से जाना है मैंने इस आर्टिकल में आपको एलएलबी के संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियों को बहुत ही विस्तार से बताया है।

मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको LLB me kitne percentage chahiye इसके बारे में सारी जानकारी मिली होगी और भी l.l.b. से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी आपको मिली होगी। अगर आपको याद कल पढ़कर एलएलबी के संबंधित सारी जानकारी मिली होगी तो हमारी आर्टिकल को शेयर जरूर करें और हमारे आर्टिकल के संबंधित कोई राय देना चाहते तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Game खेलकर पैसे कैसे कमाए