M.ed कितने साल का होता है? How old is M.ed

M.ed course एक तरह के master’s degree होती है। इस course को किसी भी stream के विद्यार्थी कर सकते हैं फिर चाहे वो art’s से हो, commerce से हो या फिर science से।

M.ed की degree लेने के लिए पहले आपको b.ed करना होता है। b.ed का course करके आप एक शिक्षक बन सकते हैं।

परंतु यदि आप b.ed का course कर के आगे और पढ़ना चाहते हैं या अपने विषय में और ज्ञान हासिल करना चाहते हैं तो आप m.ed course कर सकते हैं और शिक्षा के क्षेत्र में अपना career सफलता की ओर ले जा सकते हैं।

ऐसे लोगों के लिए m.ed का course करना अनिवार्य है। तो इसीलिए बहुत से लोग इस course को करना चाहते हैं परंतु उन्हें यह नहीं पता होता कि m.ed का course कितने साल का होता है।

आज के इस article में हम जानेंगे m.ed कितने साल का होता है। साथ ही इसे जुड़ी कई अन्य जानकारियां भी मैं आप तक पहुंचाऊंगी।

इसीलिए इस article को बड़े ही ध्यानपूर्वक पढ़ें और हमारे साथ अंत तक बने रहे।

 

M.ed कितने साल का होता है?

 

M.ed का मतलब Master of Education होता है। M.ed 2 साल का professional course है, जो शिक्षकों को शिक्षित करने के विभिन्न तरीकों के बारे में व्यावहारिक ज्ञान प्रदान करके उनके professional skill  देकर तैयार करता है।

आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे इन सभी के बारे में।

  • M.ed की पढ़ाई क्यों करें?
  • Enhanced Value in the Job Market
  • Career Mobility
  • Build Upon One’s Teaching Skills
  • Increased Earning Potential
  • Different Job Opportunities
  • M.ed semesters?

syllabus न केवल शिक्षा के बारे में ज्ञान को गहरा करने पर concentrated है बल्कि शिक्षकों को शिक्षण में विभिन्न Specific क्षेत्रों को चुनने और अनुसंधान क्षमताओं को विकसित करने की अनुमति देता है। आने वाले वर्षों में भारतीय शिक्षा उद्योग के 7.5% की दर से बढ़ने की उम्मीद है।

IBEF की एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीय शिक्षा बाजार 2025 तक 2025 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक होने की उम्मीद है, इसलिए भारत में शिक्षकों की भारी मांग पैदा हो रही है।

Course में प्रवेश के लिए न्यूनतम पात्रता यह है कि उम्मीदवारों को B.Ed, BSc.B.Ed या D.El.Ed minimum percentage 50-60% के साथ और प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करें।

M.Ed course की सामान्य अवधि 2 साल की है, जिसमें 4 सेमेस्टर होते हैं लेकिन कुछ college जैसे शिवाजी विश्वविद्यालय एक साल का m.ed course प्रदान करते हैं।

भारतीय शिक्षा प्रणाली की गतिशील प्रकृति को ध्यान में रखते हुए m.ed syllabus को लगातार बदला जाता है। M.Ed syllabus को राष्ट्रीय उच्च शिक्षा परिषद (NCHE) द्वारा नियंत्रित किया जाता है। M.Ed कोर्स करने का औसत शुल्क लगभग INR 10,000 से INR 50,000 प्रति वर्ष है, जो कॉलेज से कॉलेज में भिन्न हो सकता है।

M.ed की पढ़ाई क्यों करें?

 

M.ed course प्राप्त करना अपने शिक्षण career को समृद्ध और आगे बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। यह छात्रों को एक विशेषज्ञ शिक्षक के रूप में स्थापित करता है और नौकरी के अवसरों को बढ़ाता है। M.Ed degree होने के कुछ लाभ-

  • Enhanced Value in the Job Market

एक मास्टर आमतौर पर हाई स्कूल स्तर पर शिक्षण के लिए बुनियादी आवश्यकता होती है, इसलिए शिक्षण नौकरी के बाजार में बहुत अधिक भार होता है। M.ed course होने से उम्मीदवार मध्य विद्यालय स्तर को पढ़ाने से आगे बढ़ सकते हैं और उन्हें 11 और 12 जैसी वरिष्ठ कक्षाओं को पढ़ाने की अनुमति मिलती है।

 

  • Career Mobility

उन्नत डिग्री वाले शिक्षकों को स्कूल प्रशासनिक पदों पर काम करने के लिए विभिन्न नौकरी के अवसर मिलते हैं और विशिष्ट graduate training के आधार पर अन्य शिक्षकों के सलाहकार बन सकते हैं।

  • Build Upon One’s Teaching Skills

M.Ed Degree मुख्य रूप से शिक्षाशास्त्र, शिक्षण विधियों, शिक्षा के दर्शन और शैक्षिक प्रौद्योगिकी पर जोर देने के साथ शिक्षक बनने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित करता है जो निश्चित रूप से एक teaching skill को बेहतर बनाने में मदद करती है।

  • Increased Earning Potential

Degree के बढ़े हुए स्तर के साथ वेतन भी बढ़ता है, इसलिए M.Ed Degree प्राप्त करने से teaching line में उच्च वेतन वाली नौकरी प्राप्त करना आसान हो जाता है।

भारत में M.Ed का course करने वाले उम्मीदवारों की प्रति वर्ष INR 510,900 है जो भारत में B.Ed शिक्षक की तुलना में बहुत अधिक है, जो भारत में प्रति वर्ष कुल INR 339,000 कमाते हैं।

  • Different Job Opportunities

M.Ed Course पूरा करने के बाद आप न केवल शिक्षक या प्रोफेसर की नौकरी का विकल्प चुन सकता है, बल्कि Counselor Post, Headmaster और समान के लिए भी जा सकता है।

M.ed course छात्रों को शिक्षण अनुशासन में शैक्षिक अनुसंधान, सामाजिक और मनोवैज्ञानिक नींव की मूल बातें प्रदान करता है। 

M.ed semesters?

 

M.Ed course 2 साल की degree है जिसमें 4 Semester होते हैं, यानी मूल रूप से हर साल 2 Semesters होते हैं। M.Ed Syllabus में निम्नलिखित मुख्य विषय शामिल हैं,

Semester 1

  • Philosophical Foundations of Education-I
  • The methodology of Educational Research & Educational Statistics-I
  • Research Communication & Expository writing skills
  • Sociological Foundations of Education-I
  • Information and Communication Technology in Education-(Course V is Practical base)
  • Psychological Foundations of Education-I

Semester 2

  • The methodology of Educational Research & Educational Statistics-II
  • Philosophical Foundations of Education-II
  • Proposal preparation and presentation (Dissertation based practicum)
  • Sociological Foundations of Education-II
  • Educational Data Analysis through Statistical packages (Course X is Practical base)
  • Psychological Foundations of Education-II

Semester 3

  • Comparative Education-I
  • Dissertation/Special Paper
  • Special Papers
  • Specialization based Internship
  • Curriculum Studies-I

Semester 4

  • Special Papers
  • Comparative Education-II
  • Dissertation/Special Paper
  • Curriculum Studies-II
  • Internship (in Teacher Education Institution)

यह सभी वह सिलेबस है जो आपको सेमेस्टर वाइज एग्जाम में पूछे जाते हैं। इसे देख कर आपको या अनुमान लग जाएगा कि आप पहले सेमेस्टर से लेकर अंतिम सेमेस्टर तक क्या-क्या पडगे और कैसे कैसे पढ़ेंगे। इसमें आपको 2 साल में 4 सेमेस्टर यानी 1 साल में 2 सेमेस्टर का एग्जाम देना होता है।

 

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना m.ed कितने साल का होता है। साथ ही हमें जाना m.ed की पढ़ाई क्यों करें। इन सबके अलावा Enhanced Value in the Job Market, Career Mobility, Build Upon One’s Teaching Skills, Increased Earning Potential, Different Job Opportunities इन सब के बारे में विस्तार से जाना, और M.ed के semesters के बारे में भी जाना।

आशा है आज के इस आर्टिकल को पढ़कर आपके मन में m.ed कितने साल का होता है से संबंधित जो भी प्रश्न होंगे उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅