नीट का पेपर कैसा होता है? | What’s the standard of NEET

आज के समय में हर विद्यार्थी अपना अच्छा career बनाना चाहता है। जिसके लिए वह बचपन से ही कुछ ना कुछ बनने का सपना देखता है। जिसमें से कोई Engineer बनना चाहता है या तो कोई doctor बनना चाहता है।

यदि बात करें doctor की तो हम में से बहुत सारे विद्यार्थी ऐसे हैं जो एक doctor बनना चाहते हैं। Doctor का profession समाज के प्रतिष्ठित profession में से एक है। एक doctor बनने के लिए विद्यार्थी को मुख्यता MBBS का course करना अनिवार्य होता है।

परंतु आप अन्य medical क्षेत्र से संबंधित course करके भी medical क्षेत्र में जा सकते हैं। परंतु medical का course करने के लिए आपको सबसे पहले Neet की परीक्षा देनी होती है।

Neet परीक्षा एक entrance test होता है जो विद्यार्थियों को देना होता है, यदि विद्यार्थी इस test में पास हो जाते हैं तो फिर उन्हें एक अच्छे सरकारी कॉलेज में आसानी से दाखिला मिल जाता है। इसीलिए एक doctor के profession में जाने वाले विद्यार्थी के लिए Neet परीक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

परंतु हम में से कई सारे विद्यार्थी ऐसे भी हैं जिनके मन में Neet की परीक्षा को लेकर कई सारे सवाल होते हैं। इसमें से एक महत्वपूर्ण सवाल यह भी है कि Neet का paper कैसा होता है?

तो आज के इस article में हम जानेंगे कि Neet का paper कैसा होता है, साथ ही इससे जुड़ी कई अन्य जानकारियों के बारे में भी चर्चा करेंगे। इसलिए इस article को बड़े ही ध्यानपूर्वक पढ़ें और हमारे साथ अंत तक बने रहे।

Neet का paper कैसा होता है?

Neet की परीक्षा आप अपनी 12वीं के exam के बाद दे सकते हैं। Neet के exam में 11वीं और 12वीं कक्षा के physics, chemistry और biology के botany और zoology इन सारे विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं।

Neet exam बहुत ही कठिन exams में से एक हैं, और इस परीक्षा में काफी कठिन प्रश्न ही पूछे जाते हैं। Neet का exam पास करने के लिए आपको बहुत कड़ी मेहनत करनी होती है, और सारे विषयों की अच्छी knowledge रखनी होगी। दरअसल Neet का paper कैसा होता है या जाने से पहले हमें यह जानना होगा कि Neet क्या है?

इसे भी जरूर पढ़ें

आज के इस article में हम इन सभी सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

  • Neet क्या है?
  • Neet exam pattern?

Neet क्या है?

Neet का मतलब National eligibility cum entrance test होता है। यह परीक्षा राष्ट्र स्तर पर होने वाली सबसे प्रमुख medical entrance test है। इस exam को NTA(National testing agency) के द्वारा आयोजित किया जाता है।

इस परीक्षा को हर वर्ष आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा में हर साल लाखों विद्यार्थी वैठते है। जिसमें की बहुत कम विद्यार्थी पास हो पाते हैं और आगे किसी अच्छे college में दाखिला करवाते हैं।

यदि आप MBBS या BDS जैसे course सरकारी कॉलेज से करना चाहते हैं तो आपको Neet का exam पास करना अनिवार्य है। देश के जितने भी मुख्य सरकारी medical college है उन सभी में MBBS या अन्य medical के क्षेत्र वाले courses करने के लिए सरकार द्वारा neet की परीक्षा आयोजित की जाती है, उसको पास करना अनिवार्य है।

Neet का exam पास करने के बाद आप कई तरह के प्रसिद्ध courses में अपना दाखिला करवा सकते हैं। आपको UG और PG दोनों ही तरह के medical courses करने के लिए Neet का exams पास करना अनिवार्य है। यदि आप medical क्षेत्र में UG courses करना चाहते हैं तो आपको Neet UG की परीक्षा देनी होगी, और आप यदि medical क्षेत्र में PG course करना चाहते हैं तो आपको Neet PG की परीक्षा देनी होगी। Neet की परीक्षा प्रत्येक वर्ष मई के महीने में होती है।

आप Neet की परीक्षा में जिस rank पर आते हैं उसके आधार पर विद्यार्थियों को medical के courses जैसे MBBS, B.Sc nursing, BDS के लिए अच्छे सरकारी कॉलेज में दाखिला मिलता है।

Neet exam pattern?

इस परीक्षा को science stream के विद्यार्थी देते हैं, जिसमें कुल 3 विषय होते हैं physics, chemistry और biology। Biology के अंतर्गत दो विषय आते हैं zoology और botany। इन सभी विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं जो कि कुल मिलाकर 180 प्रश्न होते हैं।

इन सभी प्रश्नों का विद्यार्थियों को उत्तर देना अनिवार्य होता है। यदि आप Neet परीक्षा पास करना चाहते हैं तो आपको इन सभी विषयों को बहुत ही अच्छे से पढ़ना होगा।

Neet की परीक्षा को कुल 11 भाषाओं में आयोजित किया जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यदि किसी विद्यार्थी को हिंदी या इंग्लिश भाषा में कोई भी परेशानी होती है तो वह अपनी local भाषा में Neet की परीक्षा दे सकता है।

जैसा कि आप जानते हैं की Neet के paper में 180 प्रश्न होते हैं, जिसमें से हर प्रश्न के आपको 4 अंक मिलते हैं, जिस हिसाब से Neet के exam का कूल अंक 720 है।

परंतु इस exam में आपकी minus marking भी की जाती है exam में आपके जितने भी प्रश्न गलत होते हैं आपके कुल अंकों में से उतने अंक काट लिए जाते हैं।

इसीलिए परीक्षा देते समय विद्यार्थियों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वह कम से कम गलती करें और जितने प्रश्नों के उत्तर उन्हें पता है केवल वही लिखकर आए।

Exam के लिए आपको 3 घंटे का वक्त मिलता है जिसमें कि आपको पूरा paper हल करना होता है।

यदि बात करें की Neet का exam किस mode में होता है तो यह exam Online mode में नहीं होता, बल्कि यह exam pen और paper mode में होता है, जिस paper को विद्यार्थियों को 3 घंटे के अंदर पूरा हल करना होता है, और फिर विद्यार्थियों को वह हल किया हुआ paper वही जमा करना होता है। परंतु इस exam का result online issue करवाया जाता है।

निष्कर्ष

आज के इस article में हमने जाना Neet का paper कैसा होता है। साथ ही हमने Neet क्या है और Neet exam pattern इन दोनों के बारे में भी विस्तार से जाना।

आशा है आज की इस article को पढ़कर आपके मन में Neet का paper कैसा होता है से लेकर जो भी सवाल होंगे उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅