नीट के बिना 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स?

यदि आप NEET की परीक्षा नहीं दे पाए हो और 12वीं के बाद आप मेडिकल कोर्स करना चाहते हो तो आपको यह जानना अति आवश्यक है कि NEET के बिना 12वीं के बाद मेडिकल में कौन-कौन से कोर्स होते हैं?

आज के इस आर्टिकल में हम इन सभी सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

  • NEET के बिना 12वीं के बाद मेडिकल कोर्सेज?
  • NEET के बिना 12वीं के बाद फिजियोथैरेपी मेडिकल कोर्स?
  • NEET के बिना 12वीं के बाद मनोविज्ञान मेडिकल कोर्स?
  • NEET के बिना 12वीं के बाद फार्मेसी मेडिकल कोर्स?
  • NEET के बिना 12वीं के बाद पशु चिकित्सा विज्ञान मेडिकल कोर्स?

नीट के बिना 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स?

नीट के बिना 12वीं के बाद ऐसे कई मेडिकल कोर्सेज है जो किए जा सकते हैं जैसे कि

  • फिजियोथैरेपिस्ट
  • पशु चिकित्सा विज्ञान
  • फार्मेसी
  • मनोविज्ञान

इसके अलावा alternative medical career field मे भी 12वीं के बाद बिना NEET के एग्जाम के कई साड़े मेडिकल कोर्सेज उपलब्ध होते हैं जैसे कि

  • BSc in biotechnology
  • BSc in microbiology
  • Bachelor of perfusion technology
  • BSc in human nutrition
  • BSc in genetics
  • Bachelor in psychology
  • Bachelor in respiratory therapy
  • BSc in cardiovascular technology
  • Bachelor of occupational therapy
  • Diploma in rehabilitation

इस जैसे कई सारे मेडिकल कोर्सेज है जो कि NEET के एग्जाम को बिना दिए भी किए जा सकते हैं।

NEET की परीक्षा हर साल लाखों विद्यार्थी देते हैं, परंतु उनमें से कुछ ही बच्चे ऐसे हैं जो कि अच्छी कॉलेज में दाखिला ले पाते हैं।

NEET की परीक्षा बहुत ही कठिन परीक्षाओं में से एक है, इसलिए इस परीक्षा में बहुत अधिक competition होता है। इस कारण से बहुत सारे विद्यार्थी के मन में यह प्रश्न होता है कि NEET के बिना भी 12वी के बाद मेडिकल कोर्स किया जा सकता है, या NEET का एग्जाम दिए बिना भी मेडिकल क्षेत्र में जाया जा सकता है?

नीट के बिना 12वी के बाद फिजियोथेरेपी मेडिकल कोर्स?

बिना NEET का एग्जाम दिए विद्यार्थियों के लिए फिजियोथैरेपी कोर्स भी एक अच्छा विकल्प है। यह 3 साल का अंडरग्रैजुएट कोर्स है। फिजियोथैरेपी में ग्रेजुएशन करने के बाद आपके पास बतौर लेक्चरर, रिसर्चर, स्पोर्ट्स फिजियो रिहैबिलिटेटर रिसर्च, असिस्टेंट, फिजियोथैरेपिस्ट, थेरेपी मैनेजर जैसे कई सारे विकल्प होते हैं।

इस कोर्स को करने के बाद कई सारे क्षेत्र में आप काम कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आप किसी अस्पताल से जुड़ कर भी अपना काम कर सकते हैं या फिर आप एक खुद का क्लीनिक खोल कर भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

फिजियोथैरेपी ट्रीटमेंट एक ऐसा तरीका है जिसमें भौतिक बोलो जैसे कि बिजली, यांत्रिक बोलो, उस्मा और यांत्रिक दबाव आदि की मदद से उपचार किया जाता है। इसमें मरीजों के विकारों को ठीक करने के उद्देश्य से उम्मीदवारों को शरीर के शारीरिक गतिविधियों से निपटना सिखाते हैं।

इसे जरूर पढ़ें

नीट के बिना 12वीं के बाद मनोवैज्ञानिक मेडिकल कोर्स?

बिना NEET का एग्जाम दिए विद्यार्थियों के लिए मनोविज्ञान यानी कि साइकोलॉजी का कोर्स भी एक अच्छा विकल्प है। मनोविज्ञान मानव के मन और उसके व्यवहार का वैज्ञानिक अध्ययन होता है।

हेल्थ केयर में जाने के लिए अन्य मेडिकल कोर्सेज की तरह इस कोर्स में आपको आपकी 12वी की पढ़ाई साइंस स्ट्रीम से करने की आवश्यकता नहीं होती। आर्ट्स या कॉमर्स वाले विद्यार्थी भी अपना ग्रेजुएशन साइकोलॉजी से करके मनोवैज्ञानिक बन सकते हैं।

इसके बाद आप मेंटल केयर काउंसलर, या फिर कंसलटेंट के रूप में काम कर सकते हैं। इसके अलावा क्रिमिनल जस्टिस और सोशल वर्कर के तौर पर भी काम किया जा सकता है। विद्यार्थी बिना NEET पास किए भी साइकोलॉजी की पढ़ाई बड़ी आसानी से कर सकते हैं।

12वी के बाद बिना NEET के BA honours किये हुए विद्यार्थी भी साइकोलॉजी चुन सकते हैं। यह कोर्स भी 3 सालों का होता है। इस विषय से ग्रेजुएशन करने के बाद उम्मीदवारों को बड़ी आसानी से सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में नौकरी मिल जाती है।

उम्मीदवारों के पास government agencies, यूनिवर्सिटी, अस्पताल, स्कूल और क्लिनिक जैसी जगहों पर नौकरी पाने के अच्छे मौके होता है।

साइकोलॉजी के स्टूडेंट ना केवल मनोविज्ञान बल्कि एक सीमा बल अधिकारी, एक सलाहकार और एक न्यूरोसाइंटिस्ट भी बन सकता है, इन सब में भी वह नौकरी पा सकता है।

नीट के बिना 12वीं के बाद फार्मेसी मेडिकल कोर्स?

मेडिकल क्षेत्र में अच्छे कड़ियल के लिए बिना NEET के परीक्षा दिए, फार्मेसी भी एक बहुत ही अच्छा विकल्प है। 12वी के बाद विद्यार्थी फार्मेसी में जा सकता है।

Pharmacy दवाइयों से जुड़े अलग-अलग जैसे कि ड्रग की खोज, औद्योगिक फार्मेसी, ड्रग सेफ्टी और मेडिकल केमिस्ट आदि की पढ़ाई होती है। मेडिकल लाइन में बी फॉर्म और डी फार्मा जैसे कोर्स होते हैं।

बीफार्म कर लेने के बाद विद्यार्थी के पास सरकारी से लेकर प्राइवेट नौकरियों के काफी विकल्प मौजूद होते हैं। और वे खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं जैसे कि एक मेडिकल शॉप।

नीट के बिना 12वीं के बाद पशु चिकित्सा विज्ञान मेडिकल कोर्स?

जैसा कि इस कोर्स के नाम से ही पता चल रहा है कि यह एक जानवरों, उसके उपचार और डायग्नोस्टिक की पढ़ाई होती है। बिना NEET का एग्जाम दिए 12वीं के बाद पशु चिकित्सा विज्ञान भी एक बहुत ही अच्छा विकल्प है।

इस कोर्स के इच्छुक विद्यार्थी 12वीं के बाद bachelor in Veterinary Science का कोर्स करते हैं।

इस कोर्स को करने में उम्मीदवारों को 5.5 साल लगते हैं। इस कोर्स में पढ़ाई के साथ-साथ इंटर्नशिप भी शामिल होती है। इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी सहायक पशु चिकित्सक, वेटनरी फार्मोकोलॉजिस्ट , वेटनरी न्यूरोलॉजिस्ट और पशु चिकित्सा सर्जन आदि बन सकता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना NEET के बिना 12वीं के बाद मेडिकल कोर्सेज हो सकता है या नहीं। साथ ही हमने जाना NEET के बिना 12वीं के बाद फिजियोथैरेपी मेडिकल कोर्स कैसे करें।

इसके साथ ही हमने जाना NEET के बिना 12वीं के बाद मनोविज्ञान मेडिकल कोर्स, NEET के बिना 12वीं के बाद फार्मेसी मेडिकल कोर्स और NEET के बिना 12वीं के बाद पशु चिकित्सा विज्ञान जैसे कोर्स कैसे करें इसके बारे में भी चर्चा की।

आशा है आज के इस आर्टिकल को पढ़कर NEET के बिना 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स हो सकती है या नहीं या फिर वह कौन कौन से कोर्स होते हैं जो कि NEET के बाद हो सकते हैं इससे जुड़े आपके मन में जो भी सवाल होंगे उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅