पैरामेडिकल क्या है? | Paramedical Course In hindi

आज हम जानेंगे कि पैरामेडिकल क्या है? (Paramedical kya hai) पैरामेडिकल कोर्स कैसे करें? (Paramedical Course kaise kare) और पैरामेडिकल के लिए योग्यता, पैरामेडिकल कोर्स में एड्मिशन कैसे लें, पैरामेडिकल कितने साल का होता है?, नौकरी की पूरी जानकारी 

कुछ सालों से Paramedical course की demand बहुत ही बढ़ी है और आज के युवा मेडिकल की क्षेत्र में पैरामेडिकल कोर्स करने की ईक्षा अधिक जाहीर करते है क्योंकि इस कोर्स में आप बहुत कुछ तो सीखते ही है इसके साथ ही अपने experience के जरिये नौकरी भी आपको जल्द ही मिल जाती है।

पैरामेडिकल क्या है | (what is paramedical in hindi)

what is paramedical in hindi

मेडिकल साइन्स से जुड़ा यह पैरामेडिकल विशेष स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारी होते है जिनका काम अस्पताल के भीतर रोगियो की देखभाल करना तथा उनका इलाज़ करना होता है इसके साथ ही अगर कोई आपातकालीन स्थिति में चिकित्सा सहायता और लोगों की जाँच के लिए पैरामेडिकल टीम की जरूरत पड़ती है।

जो किसी भी स्थान पर जाकर वहाँ मौजूद लोगों की जांच और देखभाल करना होता है। हालांकि पैरामेडिकल के अंदर कई तरह के courses आते है जिससे सभी का काम करने के अलग-अलग एरिया में experience होती है। जो कोई Paramedical से संबंधित कार्य करता है उसे कंप्लीट करने के बाद उन्हे Paramedic नाम से सम्बोधन किया जाता है।

जैसा की हमने आपको बताया की Paramedical के अंदर कई तरह के Courses होती है उसके अनुसार ही एक Paramedic का अलग-अलग काम होता है जिसे डॉक्टर का दूसरा रूप भी कह सकते है।

इनका नाम Senior डॉक्टर के बाद आती है जो Medical की क्षेत्र में बहुत ही बड़ी भूमिका निभाते है।जो किसी भी स्थान पर जाकर वहाँ मौजूद लोगों की जाँच और देखभाल करना होता है।

हालांकि पैरामेडिकल के अंदर कई तरह के courses आते है जिससे सभी का काम करने के अलग-अलग एरिया में experience होती है। जो कोई Paramedical से संबधित कोर्स करता है उसे कंप्लीट करने के बाद उन्हे Paramedic नाम से सम्बोधन किया जाता है।

पैरामेडिकल कोर्स कैसे करें? | Qualification for paramedical

पैरामेडिकल से संबंधित किसी भी कोर्स को करने के लिए आपको सबसे पहले 10वी. कक्षा उत्तीर्ण करनी होगी या आपको 12वी. कक्षा में साइंस स्ट्रीम के साथ biology के साथ 45% से अधिक मार्क्स लाने होंगे तो ही आप Paramedical course करने के लिए Admission ले सकते है।

पैरामेडिकल में कुछ ऐसी कोर्स भी है जिसे आप 10वी. कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ही कर सकते है जिसे Paramedical Diploma course के नाम से जानी जाती है। इसमें आपको इससे संबंधित कई चीजों के बारे में बताई जाती है, लेकिन विशेष कोर्स 12वी. के बाद ही होते है।

पैरामेडिकल कोर्स कितने साल का होता है | Paramedical course duration

अगर आप भी मेडिकल की क्षेत्र में पैरामेडिकल के जरिये इसमें कैरियर बनाना चाहते है तो आपके लिए यह एक बहुत ही बढ़िया career opportunity है। पैरामेडिकल कोर्स 10वी. कक्षा के बाद करने पर 6 महीने से 2 साल तक की होती है तो वहीं इसे 12वी. कक्षा पास करने के बाद करने पर एक साल से 4 साल तक की होती है।

यह सब उस कार्य पर निर्भर करता है जिसे आप करना चाहते है। पैरामेडिकल से संबंधित जितना भी कोर्स है आपका duration अलग-अलग है और सबका study material भी अलग-अलग है। आपको यह तय करना होगा की आपको कौन-सा Paramedical course करना है।

पैरामेडिकल सभी कोर्स की जानकारी

Paramedical Course में मुख्यतः तीन तरह के कोर्स होते है जिनमें पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्स पैरामेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स और बैचलर डिग्री पैरामेडिकल कोर्स शामिल है। यहाँ हम आपको इन तीनों पैरामेडिकल से संबंधित कोर्स के बारे में बताने जा रहे है जिसे आप कर सकते है।

Paramedical diploma course list

पैरामेडिकल डिप्लोमा के अंतर्गत कई तरह कोर्स आते है जिसे आप 10वी. और 12वी. कक्षा में न्यूनतम 45% से अधिक मार्क्स लाने के बाद कर सकते है। जिसका duration 6 महीना से 2 साल या उससे भी अधिक तक हो सकती है यह उस कोर्स के ऊपर ही निर्भर करती है

Paramedical certificate course list

पैरामेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स के अंतर्गत कई तरह कोर्स आते है जिसे आप 10वी. और 12वी. कक्षा में न्यूनतम 45% से अधिक मार्क्स लाने के बाद कर सकते है। जिसका duration 1 साल से 3 साल या उससे भी अधिक तक हो सकती है यह उस कोर्स के ऊपर ही निर्भर करती है।

पैरामेडिकल कोर्स में एड्मिशन कैसे लें? | Paramedical course admission

आप भी पैरामेडिकल में एड्मिशन लेकर इसकी पढ़ाई करने मेडिकल क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते है तो इसके लिए आपको सबसे पहले 12th class science stream के साथ biology के साथ complete करना होगा जिसमें आपको सबसे न्यूनतम मार्क्स 45% तक होनी चाहिए तो ही आप इसमें एड्मिशन ले सकते है।

इस करने के लिए आपको सबसे पहले किसी बढ़िया कॉलेज का चयन करना होगा जो सरकार से मान्यता प्राप्त है। इसके साथ ही आप इसमें दो तरह से एडमिशन ले सकते है पहला direct private college में admission और दूसरा entrance exam क्लियर करके भी आप इसमें अपना नामांकन करा सकते है।

हर साल अप्रैल से मई महीने में paramedical entrance exam का form निकला है जिसमें आप exam पास करके अपने अनुसार कोर्स को कर सकते है तो वहीं अगर आप इस exam को पास नही भी करते है तो बहुत सारा private और Government college में आप Direct Admission भी ले सकते है।

पेरामेडिकल साइंस से जुड़े इन कोर्सों में है करियर की संभावनाएं

मेडिकल के क्षेत्र में सिर्फ एक ही पेशा नही है डॉक्टर बनने का बल्कि मेडिकल का क्षेत्र बहुत बड़ा है और इसमें करियर की कई अपार संभावनाएं है। आज हम आपको पैरामेडिकल साइंस के बारे में बताने जा रहे है। दरअसल पैरामेडिकल साइंस मेडिकल साइंस के लिए आधार का काम करती है। पैरामेडिकल साइंस में डायग्नोसिस, फिजियोथेरेपी, एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड, मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी जैसे कई जॉब ओरिएंटेड कोर्स कराए जाते है।

आज कुशल पैरामेडिकल प्रोफेशनल की मांग न सिर्फ भारत में है बल्कि अमेरिका, कनाडा, यूके और यूएई जैसे देशों में भी है। पैरामेडिकल में डिग्री, डिप्लोमा से लेकर सर्टिफिकेट तक के कोर्स उपलब्ध है। 12वीं पास करने के बाद कोई भी इन कार्यों को कर सकता है। इन कोर्स को करने के बाद आपके पास ढेर सारे जॉब ऑप्शन उपलब्ध हो जाते है।

पैरामेडिकल से जुड़े ये कोर्स किये जा सकते है-

  • मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी-

मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी में डिग्री, डिप्लोमा से लेकर शॉर्ट टर्म के सर्टिफिकेट कोर्स भी करवाए जाते है। इस कोर्स में आपको किसी बीमारी को डायग्नोस करना सिखाया जाता है। जब डॉक्टर किसी मरीज के लक्षण देखता है तो उसे किसी बीमारी का संदेह होता है। उस बीमारी की पुष्टि के लिए डॉक्टर जरूरी टेस्ट करवाने के लिए कहता है। तब मरीज का सैंपल लेकर टेस्ट लगाकर उस बीमारी को डायग्नोस करने वाला शख्स ही मेडिकल लैब प्रोफेशनल कहलाता है। लाइफस्टाइल में बदलाव के चलते आज इस फील्ड में जॉब के कई अवसर उपलब्ध हुए है। आज हर छोटे शहर में डायग्नोस्टिक सेंटर खुलने से इस क्षेत्र के प्रोफेशनल की मांग बढ़ गई है। अगर आप भी इस फील्ड में करियर बनाना चाहते है तो आपका भविष्य सुनहरा हो सकता है।

  • फिजियोथेरेपी-

फिजियोथेरेपी में कई तरह के कोर्स उपलब्ध है। यह एक हेल्थकेयर प्रोफेशन है जिसमें शरीर के चोटिल अंग को दोबारा ठीक करने का काम किया जाता है। इसमें कई तरह की मसाज और एक्सरसाइज के साथ ही ऊष्मा, रेडिएशन, पानी, इलेक्ट्रिकल एजेंट्स के जरिए चोटिल हुए अंगों, मांसपेशियों, जोड़ों और हड्डियों को ठीक करने का काम किया जाता है। एक प्रोफेशनल फिजियोथेरेपिस्ट के लिए रोजगार के कई अवसर उपलब्ध है, उसे किसी अस्पताल, स्पोर्ट्स एकेडमी आदि जगहों पर आसानी से जॉब मिल जाता है। आप इसमें चार वर्षीय डिग्री कोर्स भी कर सकते है। इसके अलावा इस फील्ड में डिप्लोमा कोर्स भी किए जा सकते है।

  • नर्सिंग

नर्सिंग एक बेहतरीन करियर विकल्प है, जिसके बिना डॉक्टरों का पैसा पूरा नहीं हो सकता। नर्स मूल रूप से डॉक्टर की मदद करती है लेकिन इसके अलावा भी एक नर्स को कई तरह के कोर्स करने होते है जैसे मरीजों को इंजेक्शन लगाना, दवाएं देना, ड्रेसिंग करना और सर्जरी में डॉक्टर की मदद करना। इस क्षेत्र में प्रोफेशनल्स की काफी मांग जैसे अस्पताल, नर्सिंग होम, स्कूल, प्राइवेट क्लिनिक में आसानी से जॉब पाई जा सकती है। इसके अलावा एक नर्सिंग प्रोफेशनल को डिफेंस फोर्स में भी मौका मिल सकता है। नर्सिंग की फिल्ड में डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट के कोर्स किए जा सकते है। इसका चार वर्षीय डिग्री प्रोग्राम कोर्स बीएससी नर्सिंग काफी पॉप्युलर है। इसके अलावा जनरल नर्सिंग मिडवाइफरी (जीएनएम), ऑक्जिलरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम) जैसे कार्य भी किए जा सकते है।

  • फार्मासिस्ट

फार्मा से संबंधित इस फील्ड से जुड़े लोगों को फार्मास्यूटिकल प्रोडक्ट्स बनाने, फार्मास्युटिकल प्रोडक्शन के तरीके विकसित करना और क्वालिटी कंट्रोल आदि से जुड़े काम करने होते है। इस फील्ड में प्रोफेशनल कोर्स करने के बाद फार्मा कंपनी, रिसर्च से जुड़े संस्थान, डिस्पेंसरी और मेडिकल स्टोर आदि में काम मिल सकता है। इसके अलावा आप मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर भी काम कर सकते है।

  • प्रोस्थेटिक और ऑर्थोटिक इंजीनियरिंग-

पैरामेडिकल के इस क्षेत्र में शरीर के क्षतिग्रस्त या बेकार हो चुके अंगों की जगह कृत्रिम अंग उपलब्ध करवाना है। इस फील्ड में प्रोफेशनल कोर्स करने के बाद अस्पताल, रिहैबिलिटेशन सेंटर, डायग्नोस्टिक सेंटर, पॉलीक्लिनिक आदि में जॉब मिल सकती है। इस फील्ड में साढ़े चार वर्षीय डिप्लोमा कोर्स काफी पॉपुलर है।

इसके अलावा पैरामेडिकल साइंस में कई तरह के कोर्स किए जा सकते है रेडियोग्राफी, एक्स रे टेक्नोलॉजी, मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी, ऑडियोलॉजी एंड स्पीच थेरेपी, डेंटल हाइजीन, ऑपरेशन थियेटर टेक्नीशियन, ऑप्टोमेट्री एंड ऑप्थैल्मिक असिस्टेंट जैसे कई रोजगारोन्मुखी कोर्स किए जा सकते है।

Top Colleges Offering Paramedical Courses

  • Sharda University, Greater Noida
  • Gujarat University, Ahmedabad
  • Jamiahamdard University, New Delhi
  • KIIT University, Bhubaneswar
  • Indira Gandhi national open university (IGNOU), New Delhi
  • Lovely Professional University, Punjab
  • Jaipur national university
  • Manipal University
  • University of delhi
  • All India Institute of Medical Sciences (AIIMS)
  • Christian Medical College, Pune
  • University College of Medical Sciences, University of Delhi
  • Armed Forces Medical College, Pune
  • Seth Gordhandas Sunderdas Medical College, Mumbai
  • Kasturba Medical College Manipal University, Manipal

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *