पीसीएस में कितने एग्जाम होते हैं? PCS mein kitne exam hote Hain

आज के समय में हर विद्यार्थी अपने भविष्य को सफल और अच्छा बनाना चाहता है। जिसके लिए वह एक अच्छी सरकारी नौकरी चाहता है।

अब जहां बात सरकारी नौकरी की हो रही है तो वहां सबसे अच्छी सरकारी नौकरी UPSC की होती है जिसको post करके आप IAS, IPS जैसे post पर नियुक्त किए जाते हो। UPSC जो कि एक civil service है यह ही देशभर में परीक्षा लेकर अलग-अलग civil service में उम्मीदवारों की नियुक्ति करवाता है।

परंतु क्या कभी आपने सोचा है कि यदि आप UPSC का exam पास नहीं कर पाए तो आप civil service में कैसे जाओगे। तो इसके लिए आप PCS की तैयारी कर सकते हो। PCS का मतलब provisional civil service होता है।

यदि आप किसी भी कारण से UPSC नहीं कर पाए तो आप PCS का exam पास कर के civil services में जा सकते हैं। आसान भाषा में हम इसे State civil service भी कहते हैं। जो उम्मीदवार PCS की तैयारी कर रहे है उनको इस बारे में सारी जानकारी होनी अनिवार्य है।

तो आज के इस article में हम जानेंगे PCS में कितने exam होते हैं, साथ ही इससे जुड़ी कई अन्य जानकारियां के बारे में भी हम बात करेंगे। इसलिए इस article को ध्यानपूर्वक पढ़ें और हमारे साथ अंत तक बने रहे।

 

PCS में कितने exam होते हैं?

 

PCS में तीन चरणों में exam लिए जाते हैं। एक PCS officer बनने के लिए आपको मुख्यता तीन तरह के exams को सफलतापूर्वक पास करना होता है।

 

  • Prelims
  • Mains
  • Interview

 

आज के इस article में हम इन सभी सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

 

  • PCS क्या होता है?
  • Prelims exam?
  • Mains exam?
  • Interview?

 

 

यदि हमें यह जानना है कि PCS में कितने exam होते हैं तो हमें यह भी जाना होगा कि PCS क्या होता है?

 

 

PCS क्या होता है?

 

PCS का मतलब provincial civil service होता है। PCS को हिंदी में हम प्रांतीय सिविल सेवा भी कहते हैं।

PCS के exam को राज्य सिविल सेवा द्वारा आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को SDM, ARTO, DSP, BDO, जिला अल्पसंख्यक अधिकारी जैसे पदों पर नियुक्ति होती है।

यह पद राज्य सरकार के नियंत्रण में होता है, और एक बार PCS officer के रूप में भर्ती हो जाने के बाद आपका transfer दूसरे राज्य में नहीं हो सकता है।

 

Prelims exam ?

 

PCS की प्रारंभिक परीक्षा में राज्य सेवा आयोग ने संशोधन किया है। सामान्य अध्ययन के अनुसार अब तक इसमें 200-200 के पेपर होते थे, परंतु अब 200-200 अंकों के चार पेपर होंगे।

इसका मतलब यह है कि सामान्य अध्ययन का पेपर 800 अंकों का होगा। जब कि इसमें निबंध और हिंदी के प्रश्न पत्रों में किसी भी प्रकार का संशोधन नहीं किया गया है। यह दोनों प्रश्न पत्र 150-150 के ही आते हैं।

UPSC prelims की तरह PCS prelims qualifying exam होता है। इसका मतलब यह है की prelims में आप केवल passing marks ले आते हैं तो आप mains का exam देने के लिए योग्य माने जाते हैं।

आपको बस prelims के exam में 33% से ज्यादा अंक लाने होते हैं। इस परीक्षा में दोनों ही पेपर काफी कठिन होते हैं, क्योंकि PCS का exam भी civil service के अंदर आता है।

इसमें ज्यादातर syllabus GS और Reasoning पेपर का होता है तो इसके लिए आपको इन दोनों subject को अच्छे से पढ़ना होता है।

Prelims का exam पार करना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि इस को पार करने के बाद ही आप दूसरे पड़ाव के exam को दे सकते हो।

 

Paper 1. सामान्य अध्ययन

 

  • प्राचीन भारत
  • आधुनिक भारत
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
  • राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं
  • मध्यकालीन भारत
  • भारतीय धार्मिक आंदोलन

 

Paper 2. भारतीय राज व्यवस्था और प्रशासन संविधान

 

  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • तर्कशक्ति और विश्लेषण क्षमता
  • 10th लेवल तक की सामान्य इंग्लिश
  • सामान्य तर्कशक्ति अध्ययन
  • निर्णय क्षमता और समस्या हल
  • दसवीं क्लास के स्तर तक की प्रारंभिक गणित, बीजगणित, अंकगणित, सांख्यिकी और ज्यामिति

 

Mains exam?

 

मुख्य परीक्षा में संशोधन के बाद इस पैटर्न के आधार पर परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। Prelims qualify करने वाले विद्यार्थी ही mains की परीक्षा दे सकते हैं।

यदि mains paper की बात करें तो यह मुख्य पेपर माना जाता है, इसलिए इसमें आपको बहुत अधिक अंक लाने होते हैं, क्योंकि सबसे ज्यादा mains paper के ही अंक मायने रखते हैं।

Mains paper में भाषा के विषयों का चुनाव विद्यार्थी अपने मन से कर सकता है। Mains परीक्षा लगातार पूरे हफ्ते तक चलती रहती है और इसीलिए Mains परीक्षा में विद्यार्थी को लगातार पेपर देने होते हैं।

इस परीक्षा के बाद जो भी विद्यार्थी होते हैं वह अपने अपने category के हिसाब से अपने cutoff से ज्यादा अंक लाते हैं उन्हें फिर उन्हें आगे interview के लिए बुलाया जाता है।

 

  • निबंध 150 अंक
  • हिंदी 150 अंक
  • सामान्य अध्ययन 1- 200 अंक
  • जनरल स्टडीज (सामान्य अध्ययन -2) 200 अंक
  • सामान्य अध्ययन 3- 200 अंक
  • जनरल स्टडीज (सामान्य अध्ययन-4) 200 अंक
  • ऑब्जेक्टिव पेपर 1- 200 अंक
  • वैकल्पिक विषय पेपर 2- 200 अंक

 

 Interview?

 

लोक सेवा आयोग के इस exam में Interview के 200 अंक की जगह 100 अंक कर दिए गए हैं। Interview में आप से किसी विषय पर अपने विचार, अलग-अलग परिस्थितियों में आप के निर्णय लेने की क्षमता और नेतृत्व क्षमता का परीक्षण किया जाता है।

आपको इस इंटरव्यू से पहले यह बात स्पष्ट कर लेनी चाहिए कि आपको यह नौकरी क्यों चाहिए। इसके अलावा आपको वर्तमान में घटित साड़ी घटनाओं के बारे में जानकारी होनी जरूरी है।

Interview में आपकी personality का परीक्षण होता है जिसके लिए आपसे आपके biodata और सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें आपके self confidence की भी परीक्षा ली जाती इसलिए आपको खुद पर विश्वास होना बहुत आवश्यक है।

निष्कर्ष

आज के इस article में हमने जाना PCS में कितने exam होते हैं। साथ ही हमने जाना PCS क्या होता है। इसके अलावा हमने Prelims exam, Mains exam और Interview के बारे में भी जाना।

आशा है आज के इस article को पढ़कर आपके मन में PCS में कितने exam होते हैं से संबंधित जो भी सवाल होंगे, उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅