पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है? Post graduation kitne saal ka hota hai

यदि आप भी आगे चलकर ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन करना चाहते हो तो आपको यह जानना बहुत ही आवश्यक है कि पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

आज के इस article में हम इन सभी सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

  • पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?
  • पोस्ट ग्रेजुएशन क्या होता है?
  • पोस्ट ग्रेजुएशन कितने तरह के होते हैं?
  • M.Sc कितने साल का होता है?
  • M.A कितने साल का होता है?
  • M.com कितने साल का होता है?
  • M.tech कितने साल का होता है?
  • MBA कितने साल का होता है?
  • MCA कितने साल का होता है?
  • LLM कितने साल का होता है?

पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है? (Post graduation kitne saal ka hota hai)

Post graduation की अवधि ज्यादातर 2 सालों की होती है। इसके साथ ही कई सारे ऐसे कोर्सेज है जो कि पोस्ट ग्रैजुएट लेवल कोर्स होते हैं, जिसकी अवधि 3 साल भी होती है। इसके अलावा भी कई सारे दूसरे कोर्सेज होते हैं जिनकी अवधि ज्यादा या कम हो सकती है।

जितने भी विद्यार्थी 12वीं के बाद सिंपल ग्रेजुएशन करते हैं, यानी कि BA, BCom, BSc वह सभी यदि आगे पढ़ना चाहते हैं तो वह अपने ग्रेजुएशन के विषय के हिसाब से चून कर अपने पोस्ट ग्रेजुएशन का विषय करते हैं जो कि या तो M.Sc, M.com या M.A हो सकता है।

परंतु इसके BA BCom और BSc के अलावा भी कई सारे ग्रेजुएशन कोर्सेज उपलब्ध है। इसी तरह पोस्ट ग्रेजुएशन में भी MA, M.com और MSc के अलावा कई सारे कोर्सेज उपलब्ध करवाए जाते हैं।

पोस्ट ग्रेजुएशन क्या होता है?

Post graduation का short form PG होता है। यह कोर्स छात्रों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इस कोर्स को कर लेने के बाद छात्रों को भिन्न भिन्न प्रकार के क्षेत्रों में काम करने का मौका मिलता है।

इसके अलावा अलग-अलग कोर्सेज में पोस्ट ग्रेजुएशन किया जा सकता है।

परंतु ज्यादातर पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज करने में हमें एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। यदि हमें इस एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे अंक आते हैं तो ही हमें पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए एक अच्छा कॉलेज मिल सकता है।

12वीं के बाद जो भी विद्यार्थी ग्रेजुएशन कोर्स पूरा कर लेते हैं, और ग्रेजुएशन का कोर्स पूरा करने के बाद जो भी विद्यार्थी पोस्ट ग्रेजुएशन में एडमिशन लेते हैं और पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स पूरा कर लेते हैं उसे पोस्ट ग्रेजुएशन कहते हैं।

पोस्ट ग्रेजुएशन कितने प्रकार के होते हैं?

पोस्ट ग्रेजुएशन अलग-अलग प्रकार के होते हैं। कुछ अहम पोस्ट ग्रेजुएटएड कोर्स जिसके बारे में हम जानेंगे।

  • M.Sc
  • M.A
  • M.com
  • M.tech
  • MBA
  • MCA
  • LLM

इसे भी जरूर पढ़ें

एमएससी में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

एमएससी के बारे में उन विद्यार्थियों को पता होगा जिन्होंने अपने 12वी में science stream लिया होगा। M.Sc को हम मास्टर ऑफ साइंस भी कहते हैं। यह एक पोस्ट ग्रैजुएटएड कोर्स होता है, जो कि 2 सालों का होता है।

साइंस स्ट्रीम वाले विद्यार्थी 12वी के बाद बीएससी करते हैं और फिर भी B.Sc पूरी करने के बाद वह एमएससी करते हैं जिसमें वह अलग-अलग विषयों से एमएससी कर सकते हैं।

एम ए में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने सालों का होता है?

इसी प्रकार M.A के बारे में उन विद्यार्थियों को पता होता है जो अपने 12वी में arts stream लेते हैं। M.A को हम मास्टर ऑफ आर्ट्स भी कहते है। यह पोस्ट ग्रैजुएटइड कोर्स होता है, जो कि 2 साल का होता है।

आर्ट्स स्ट्रीम वाले विद्यार्थी 12वी के बाद B.A करते हैं और फिर बीए पूरी करने के बाद वह M.A करते हैं, जिसमें वह अलग-अलग विषयों से M.A कर सकते हैं।

एम कॉम में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

इसी प्रकार एम कॉम के बारे में उन व्यक्तियों पता होता है जो अपने 12वीं में commerce stream लेते हैं।M.com को हम मास्टर ऑफ कॉमर्स भी कहते हैं। यह पोस्ट ग्रैजुएट कोर्स होता है, जो कि 2 सालों का होता है।

Commerce stream वाले विद्यार्थी 12वीं के बाद B.com करते हैं और फिर B.com पूरी करने के बाद वह एमकॉम करते हैं, अलग-अलग विषयों से एमकॉम कर सकते हैं।

एमटेक में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

12वीं के बाद जो विद्यार्थी इंजीनियरिंग करना चाहते हैं वह अंडर ग्रैजुएट लेवल पर बीटेक में एडमिशन लेते हैं। इस एमटेक कि 2 साल की होती है।

एमबीए में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

एमबीए एक बहुत ही लोकप्रिय कोर्स में से एक है। एमबीए को हम मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन भी कहते हैं। एमबीए में हमें व्यापार और व्यापार के प्रबंध से संबंधित पढ़ाया जाता है।

किसी भी बैचलर डिग्री के बाद विद्यार्थी एमबीएसए पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकता है। एमबीए का कोर्स भी 2 वर्षों का होता है।

एमसीए में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने सालों का होता है?

कंप्यूटर में रुचि रखने वाले विद्यार्थी 12वी के बाद ग्रेजुएशन लेवल पर बीसीए करते हैं, जिसका मतलब होता है बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन। और फिर पोस्टग्रेजुएट में एमसीए करते हैं, जिसका मतलब होता है मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन।

इस कोर्स की अवधि बाकी सारे कोर्सों से थोड़ी ज्यादा होती है। कोर्स को करने के लिए हमें 3 साल लगते हैं।

एलएलएम में पोस्ट ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

LLM करने वाले विद्यार्थी 12वीं के बाद law में ग्रेजुएशन और फिर पोस्ट ग्रेजुएशन करते हैं। इस कोर्स की अवधि भी 2 साल की होती है। LLM का पूरा नाम मास्टर ऑफ लो होता है।

निष्कर्ष

आज के इस article में हमने जाना पोस्ट ग्रेजुएशन कितने सालों का होता है। साथ ही हमने जाना पोस्ट ग्रेजुएशन क्या होता है।इसके अलावा हमने पोस्ट ग्रेजुएशन कितने तरह के होते हैं इसके बारे में भी जाना।

साथ ही हमने जाना M.sc कितने सालों का होता है।M.com कितने सालों का होता है।M.A कितने सालों का होता है।M.tech कितने सालों का होता है। MBA कितने सालों का होता है।MCA कितने सालों का होता है। और LLM कितने सालों का होता हैं।

आज हमने इन सभी के बारे में जाना। आशा है आज के इस article को पढ़कर पोस्ट ग्रेजुएशन कितने सालों का होता है इससे जुड़े आपके मन में जो भी सवाल हैं उन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गया होगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए) ✅✅✅