IPS banne ke liye konsa subject lena chahiye

IPS बनने के लिए विषय? | Subject for become an IPS Officer

Advertisements

आज हम जानेंगे कि आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? (IPS banne ke liye kaun sa subject Lena chahie), IPS की तैयारी के लिए विषय (IPS ki taiyari ke liye subject)

Advertisements

दोस्तों जब बात आती है अपने लिए एक अच्छा करियर ऑप्शन चुनने की तो हर कोई अपने लिए एक बेहतर करियर ऑप्शन चाहता है। वर्तमान में जहां प्रोफेशन में ज्यादातर डॉक्टर और इंजीनियर चुनने वाले हैं, वहीं आईएएस ऑफिसर और आईपीएस ऑफिसर बनने की इच्छा रखने वालों की संख्या भी कम नहीं है।

IPS banne ke liye kaun sa subject Lena chahie
IPS banne ke liye subject

बहुत से छात्र आगे चलकर खुद को एक आईपीएस ऑफिसर के रूप में देखना चाहते हैं। सिर्फ अच्छी सैलरी के लिए ही नहीं बल्कि एक आईपीएस ऑफिसर बनने पर इज्जत और रुतबा भी मिलता है। आईएएस, आईपीएस जैसे पद देश के सबसे प्रतिष्ठित पदों में आते हैं।

आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? (IPS banne ke liye konsa subject lena chahiye)

छात्र जो आईपीएस की पढ़ाई करके एक आईपीएस ऑफिसर बनना चाहते हैं उनके लिए यह आवश्यक होता है कि उन्हें इससे संबंधित हर किस्म की बातों का पता हो। कई छात्रों के मन में यह प्रश्न रहता है या उन्हें इसका ठीक से ज्ञान नहीं होता की आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए। यह दुविधा  कि उन्हें दसवीं या 12वीं के बाद किस विषय को चुनना है कई छात्रों को असमंजस में डालती है।

आज इस लेख में हम मुख्यतः इसी बात पर चर्चा करेंगे की एक आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?, वह किस स्ट्रीम को चुन सकता है, उसे ips की तैयारी के लिए विषय क्या लेना चाहिए? इत्यादि, साथ ही आईपीएस से जुड़े अन्य बातों को भी जानेंगे।

IPS की तैयारी के लिए विषय (IPS ki taiyari ke liye subject)

IPS ki taiyari ke liye subject

दोस्तों जब बात आती है अपने रूचि के अनुसार, पढ़ने के लिए विषयों को चुनने की तो इसका अवसर आपको दसवीं के बाद ही मिलता है। दसवीं के पहले आपको सारे जरूरी सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं, जिसमें गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, हिंदी, अंग्रेजी या कोई अन्य भाषा जैसे जरूरी विषय आते हैं।

दसवीं उत्तीर्ण कर लेने के बाद आपको तीन विकल्प दिए जाते हैं जिसमें आपको तीन स्ट्रीम्स में से किसी एक का चुनाव अपनी रूचि के अनुसार करना होता है। आपके पास साइंस स्ट्रीम यानी विज्ञान, कॉमर्स स्ट्रीम एवं आर्ट्स स्ट्रीम में से चुनने का विकल्प होता है।

IPS banne ke liye 10th ke baad konsa subject le

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आप इन तीनों में से किसी भी स्ट्रीम का चुनाव कर सकते हैं, यानी

  • साइंस स्ट्रीम को चुनने वाला एक छात्र भी आईपीएस बन सकता है।
  • कॉमर्स स्ट्रीम को चुनने वाला भी छात्र आईपीएस बन सकता है।
  • आर्ट्स स्ट्रीम को चुनने वाला छात्र भी आईपीएस बन सकता है।

ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता कि यदि किसी ने साइंस लिया है तो उसे आर्ट्स लेने वाले छात्र से बेहतर समझा जाएगा।

यानी किसी भी स्ट्रीम का छात्र होने पर आप ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद आईपीएस की परीक्षा में बैठ सकते हैं।

आईपीएस बनने के लिए विषय (IPS banne ke liye subject)

दोस्तों अपने दसवीं के बाद जिस भी स्ट्रीम का चुनाव किया होगा आपको कक्षा 11वीं और 12वीं में उसी स्ट्रीम के अंतर्गत आने वाले विषयों को पढ़ना होगा और 12वीं में उनकी  परीक्षा देनी होगी। 12वीं उत्तीर्ण कर लेने के बाद आगे की पढ़ाई में ग्रेजुएशन में फिर आपको अपने लिए एक विषय चुना होता है जिसमें आप आगे की पढ़ाई करेंगे।

क्या IPS बनने के लिए ग्रेजुएशन जरूरी है?

Advertisements
IPS banne ke liye subject

आईपीएस के लिए जरूरी योग्यता में ग्रेजुएशन में आप अपने अनुसार किसी भी विषय का चुनाव कर सकते हैं यह बिल्कुल जरूरी नहीं कि आपने यदि 12वीं में साइंस स्ट्रीम को चुना तो ग्रेजुएशन भी आपको साइंस के किसी विषय से ही करनी होगी। आप ग्रेजुएशन में विषय बदल सकते हैं।

यदि आप साइंस स्ट्रीम के छात्र रहे हैं तो आप साइंस के विषयों के अलावा आर्ट्स या कॉमर्स के विषय भी चुन सकते हैं।

11वीं में कॉमर्स स्ट्रीम का चुनाव करने वाले छात्रों के पास ग्रेजुएशन में कॉमर्स या आर्ट्स में से कोई  विषय चुनने का विकल्प होता है। आर्ट्स स्ट्रीम वाले छात्र arts stream के विषय से ग्रेजुएशन कर सकते हैं। यानी

  • साइंस लेने वाले छात्र ग्रेजुएशन में कोई भी विषय चुन सकते हैं।
  • कॉमर्स लेने वाले छात्र साइंस स्ट्रीम के सब्जेक्ट नहीं ले सकते है, तथा आर्ट्स स्ट्रीम के छात्र साइंस या कॉमर्स के विषय नहीं ले सकते हैं।

ग्रेजुएशन में किसी भी विषय से जरूरी अंकों के साथ पास होने पर आप आईपीएस की परीक्षा में बैठने के योग्य हो जाते हैं।

न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता

यदि बात की जाए आईपीएस बनने के लिए अनिवार्य न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की तो यह ग्रेजुएशन है यानी आईपीएस की परीक्षा में बैठने के लिए आपका ग्रेजुएट होना अनिवार्य होता है।

क्या 12th के बाद IPS बन सकते हैं?

12th के बाद IPS बन सकते हैं?

यदि किसी को ऐसा भ्रम है की 12वीं पूरी कर लेने के बाद ही आईपीएस की परीक्षा में बैठ सकते हैं तो ऐसा नहीं है, आपका कम से कम एक ग्रेजुएट होना जरूरी होता है। हालांकि ग्रेजुएशन के थर्ड ईयर के छात्र भी इसकी परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

हालांकि आपने किस विषय में ग्रेजुएशन किया है या आपके ग्रेजुएशन में कितने प्रतिशत नंबर आए हैं यह नहीं देखा जाता। चाहे आप एक आपने साइंस स्ट्रीम के किसी विषय में ग्रेजुएशन किया हो, या फिर कॉमर्स के किसी विषय में, या फिर आर्ट्स के किसी विषय में, न्यूनतम जरूरी अंको से ग्रेजुएशन पास होने पर आप आईपीएस बनने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं।

IPS बनने के लिए क्या करना पड़ता है? (IPS banne ke liye kya karna padta hai)

10वीं 12वीं या फिर ग्रेजुएशन के अंक कोई मायने नहीं रखते हैं। आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आपको यूपीएससी (upsc) यानी यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा आयोजित सिविल सर्विस का एग्जाम पास करना होता है। यूपीएससी की परीक्षा पास करके ही एक आईपीएस ऑफिसर बना जा सकता है।

यूपीएससी की परीक्षा पूरे देश की सबसे बड़ी परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा में पढ़ाई के लगभग हर क्षेत्र से प्रश्न पूछे जाते हैं, एक प्रकार से  इसके सिलेबस का कोई अंत नहीं है, लगभग हर क्षेत्र से इसमें प्रश्न पूछे जाते हैं। इसीलिए यदि आप एक आईपीएस बनने की इच्छा रखते हैं तो आपको इसके लिए कड़ी मेहनत कठिन परिश्रम के साथ पढ़ाई करने की आवश्यकता होती है। आपको शुरुआत से ही इसके लिए पढ़ाई करने की जरूरत होती है।

यदि बात करें इसके परीक्षा की तो यह तीन चरणों में होती है, जिसमें

  • पहले प्रीलिम्स एग्जाम उसके बाद
  • मेंस एग्जाम और
  • अंत में इंटरव्यू लिया जाता है।

प्रीलिम्स एग्जाम में उत्तीर्ण होने के बाद आप मेंस एग्जाम मैं बैठ सकते हैं और वह भी पास कर लेने पर आप इंटरव्यू दे सकते हैं।

परीक्षा के तीनों चरणों को पास कर लेने के बाद मेडिकल टेस्ट, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और उसके बाद ट्रेनिंग के बाद आप एक आईएएस ऑफिसर बन जाएंगे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *