B.Com में क्या होता है? | B.Com me kya hota hai

आज के समय में पढ़ाई है विद्यार्थी के लिए आवश्यक हो चुकी है और इसीलिए पढ़ाई में बहुत तेजी से इजाफा हो रहा है।

जिस प्रकार पढ़ाई में बढ़ोतरी हो रही है उसी प्रकार पढ़ाई के क्षेत्रों में भी बढ़ोतरी हो रही है।

विद्यार्थी भी अलग-अलग क्षेत्र में शिक्षा हासिल करना चाहते हैं। वैसे तो विद्यार्थी चाहे तो किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं परंतु आज हम Bcom के बारे में जानेंगे।

तो आज के इस आर्टिकल में b.com में क्या होता है इसके बारे में जानेंगे। इसके साथ ही इससे जुड़ी कई अन्य बातों के बारे में भी चर्चा करेंगे। इसीलिए आज के इस आर्टिकल को बड़े ही ध्यान पूर्वक पढ़ें और हमारे साथ अंत तक बनी रहे।

आज हम जानेंगे?

B.Com में क्या होता है?

B.Com का मतलब Bachelor of Commerce होता है। यह कोर्स एक अंडर ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स है। आप 12वीं पास करने के बाद Bcom कर सकते हैं।

इसमें आपको finance, accounting course, banking और income tax business संबंधित चीजें पढ़ाई जाती है।

B.Com में क्या होता है?

B.com करने के बाद विद्यार्थी अपना कैरियर banking, accounting और business field मे आसानी से बना सकते हैं।

B.com का कोर्स करने के बाद छात्र ग्रेजुएट कहलाता है। इस कोर्स को करने के लिए आपका 12वीं पास होना अनिवार्य है।

मेरे पास करने के बाद आपको किसी अच्छे B.com कॉलेज में एडमिशन लेना अनिवार्य है, इसके साथ ही आपको इसमें रेगुलर पढ़ाई करके इसके सारे सेमेस्टर को पास करना अनिवार्य है।

आज के इस आर्टिकल में हम इन सभी सवालों के जवाब ढूंढेंगे।

  • B.com में कितने विषय होते हैं?
  • B.com में कितने साल लगते हैं?
  • B.com में हर semester के विषय?
  • Bcom की fees कितनी होती है?
  • B.com के लिए योग्यता?
  • B.com के लिए टॉप कॉलेजेस?
  • B.com के बाद सरकारी नौकरी?

B.Com में कितने विषय होते हैं?

कॉमर्स से संबंधित कई सारे विषय ऐसे हैं जो कि आपको B.Com में भी पढ़ाई जाते हैं। इसके अलावा भी कई सारे विषय हैं जो कि हमें B.Com में पढ़ाई जाते हैं। आप जहां से भी सेम B.Com का कोर्स कर रहे हैं वहां के सिलेबस को एक बार अच्छे से जरूर देखें।

  • Business law
  • Banking
  • Company law
  • Income tax
  • Financial accounting
  • Economics
  • Cost accounting
  • Taxation
  • Business organization
  • Management

B.com में कितने साल लगते हैं?

यदि बात की जाएं B.com के कोर्स की तो B.com का कोर्स 3 सालों का होता है, जिसमें की कुल 6 semester होते हैं। इसका मतलब यह है कि प्रत्येक वर्ष 2 सेमेस्टर आयोजित किए जाते हैं। तो अब हम B.com के semester सिलेबस के बारे में जानेंगे।

B.com में हर semester के विषय?

1st semester subject
  • English language
  • Financial accounting
  • Business organization and management
  • Environmental studies
2nd semester subject
  • Business mathematics and static
  • Modern Indian language, Language English, Hindi
  • Hindi and modern Indian language
  • Business law
3rd semester subject
  • Company law
  • Computer applications in business
  • Income tax law and practice
  • Hindi and modern Indian language
4th semester subject
  • Ecommerce
  • Corporate accounting
  • Business communication English/Hindi
  • Cost accounting
5th semester subject

क. इनमें से कोई एक

  • Principal of marketing
  • Human resources management
  • Auditing and corporate governance

ख. इनमें से कोई एक

  • Indirect tax law
  • Fundamentals of financial management

ग. Entrepreneurship

घ. principle of microeconomics

6th semester subject

क. इनमें से कोई एक

  • Banking and insurance
  • Computer issues accounting system
  • Corporate tax planning
  • Management accounting

ख. इनमें से कोई एक

  • Consumer protection
  • International business
  • Fundamentals of investment
  • Office management and secretarial practice

ग. Indian economy

घ. Personal selling and salesmanship

B.com की fees कितनी होती है?

यदि बात की जाए B.com की फीस की तो यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपने B.com का कोर्स करने के लिए किस संस्था का चुनाव करते हैं।

आप यदि B.com का कोर्स प्राइवेट कॉलेज से करते हो तो आपको अधिक फीस देनी होती है वही यदि आप B.com का कोर्स सरकारी कॉलेज से करते हैं तो आपका कम खर्च में ही कोर्स पूरा हो जाएगा।

सरकारी कॉलेज में B.com कोर्स की फीस ₹10,000 से ₹30,000 तक सालाना होगी। वहीं यदि इस कोर्स के लिए प्राइवेट कॉलेज की फीस को देखें तो वह ₹20000 से लेकर ₹100000 तक सालाना हो सकती है। किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले आप उस कॉलेज की फीस जरूर पता कर ले।

B.com के लिए योग्यता?

B.com जो कि एक अंडरग्रैजुएट डिग्री कोर्स है। इसका मतलब यह है कि यह 12वीं के बाद किया जाने वाला कोर्स है, परंतु इसके लिए आपको 12वीं में या तो कॉमर्स या तो साइंस लेना अनिवार्य है। इसके साथ ही आपको अपनी 12वी में कम से कम 50% अंक से पास होना भी अनिवार्य है।

B.com के लिए टॉप कॉलेजेस?

  • Jain University, Bengaluru
  • Hansraj College, New Delhi
  • BBD University, Lucknow
  • University of Rajasthan, Jaipur
  • Nizam College, Hyderabad
  • Shri Ram College of Commerce, New Delhi
  • Chandigarh University, Chandigarh
  • NIMS University, Jaipur
  • Garden City University, Bangalore

B.com के बाद सरकारी नौकरी?

विद्यार्थियों के पास B.com का कोर्स करने के बाद कई सारे सरकारी नौकरी के विकल्प मौजूद होते हैं। B.com करने वाले ज्यादातर विद्यार्थी बैंकिंग सेक्टर में ही अपना कैरियर बनाते हैं परंतु बैंकिंग सेक्टर के अलावा विद्यार्थियों के पास आयकर विभाग में भी जाने का विकल्प होता है। इन दोनों के अलावा भी B.com कोर्स किए हुए विद्यार्थियों के पास कई सारे विकल्प होते हैं।

  • Insurance
  • HR
  • Tax consultant
  • Chartered accountant
  • Stock brokerage
  • Indian Navy
  • Indian Railway
  • Indian army
  • Accountant
  • Company secretary
  • Income tax department
  • Indian Air force
  • Civil services

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना B.com में क्या होता है।

इसके साथ ही आज के इस आर्टिकल में हमने B.com में कितने विषय होते हैं, B.com में कितने साल लगते हैं, B.com में हर semester के विषय, B.com की fees कितनी होती है, B.com के लिए योग्यता? , B.com के लिए टॉप कॉलेजेस और B.com के बाद सरकारी नौकरी इन सभी के बारे में जाना।

आशा है आज के इस आर्टिकल को पढ़कर आपके मन में B.com में क्या होता है से संबंधित जो भी प्रश्न होंगे उन सभी प्रश्नों के जवाब आपको मिल गए होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए?  (महीने 27,000 कमाए)