M.A में कितने सब्जेक्ट होते हैं? | Subject in Master of Arts

Advertisements

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे MA में कितने सब्जेक्ट होते हैं? (M.A me kitne subject hote hai) M.A में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?, (Subject in Master of Arts)

Advertisements

आज इस आर्टिकल में हम एम ए कोर्स के सब्जेक्ट के बारे में जानेंगे जो भी छात्र एम ए कोर्स को करना चाहते हैं उनके मन में यह प्रश्न हमेशा रहता है कि m.a में कितने सब्जेक्ट होते हैं वह किन किन विषयों m.a. की डिग्री को कर सकते हैं।

MA subject in hindi

अगर आप भी एम ए कोर्स के सब्जेक्ट के बारे में जानना चाहते हैं और यह जानना चाहते कि आप किन-किन विषय में m.a कर सकते हैं।हमारे इस article को पूरा ध्यान से पढ़ें। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको बहुत आसानी होगी अपने विषय को चुनने में, आपको इस बात की जानकारी होगी कि आप किन-किन विषयों से MA कर सकते हैं उसके बाद अपने मनपसंद का विषय के साथ आप m.a. कोर्स में दाखिला ले सकते हैं।

M.A में कितने सब्जेक्ट होते हैं? (MA me kitne subject hote hai)

एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है और इसमें विभिन्न विभिन्न विषयों में डिग्री कराई जाती है आप m.a. में विभिन्न विभिन्न विषयों से स्पेशलाइजेशन के पढ़ाई कर सकते हैं।अब हम m.a. के विषय के बारे में जानेंगे। आज हम जानेंगे कि m.a. में कितने सब्जेक्ट होते हैं और आप m.a. में किन-किन विषय से स्पेशलाइजेशन कर सकते हैं?

M.A में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं? (Subject in Master of Arts)

Advertisements

MA me kitne subject hote hai

  • राजनीतिक विज्ञान (Political Science)
  • नागरिक सास्त्र (Sociology)
  • अर्थशास्त्र (Economics)
  • इतिहास (History)
  • मनोविज्ञान (Psychology)
  • दर्शनशास्त्र (Philosophy)
  • ग्रामीण विषय (Rural studies)
  • भूगोल (Geography)
  • साहित्य (Literature)
  • मानव शास्त्र (Anthropology)
  • पुस्तकालय और सूचना (Library and Information)
  • सामाजिक कार्य (Social work)
  • धार्मिक (Religious studies)
  • पुरातत्व शास्त्र (Archaeology)
  • भाषा संबंधित विषय (Linguistic)
  • भाषाएं (M.A in different language)

M.A course में ऊपर दिए गए विषयों को पढ़ सकते हैं आप इन विषयों से m.a. और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री कर सकते हैं एम ए कोर्स में आपको इन विषयों को ही पढ़ाया जाता है अब हम इंसानों की तरह के बारे में विस्तार से जानेंगे कि नृत्य में आपको क्या क्या पढ़ना होता है।

Must Read (जरूर पढ़ें)

राजनीति विज्ञान (Political science)

राजनीतिक विज्ञान में आप देश विदेश के राजनीति के बारे में पड़ेंगे इसमें आपको देश विदेश की राजनीति पर research करने का भी मौका मिलता है।इसके द्वारा आप हमारे देश की राजनीतिक इतिहास को पड़ेंगे और राजनीतिक गतिविधियों का निरीक्षण करेंगे और उनके बारे में पढ़ेंगे।अंतरराष्ट्रीय राजनीति पर भी आप रिसर्च कर सकते हैं और अंतरराष्ट्रीय नीति को भी आप पढ़ेंगे एम ए कोर्स में यह सबसे लोकप्रिय पोस्ट में से एक है बहुत से छात्र पॉलिटिकल साइंस को अपना विषय बनाते हैं।

अर्थशास्त्र (Economics)

अर्थशास्त्र में आपको फाइनेंसियल और कॉर्पोरेट वर्ल्ड के फाइनेंस के बारे में पढ़ाया जाता है।इसमें हम देश और विदेश के अर्थशास्त्र यानी देश और विदेश की इकोनॉमिक के बारे में पढ़ते हैं।उनके बारे में रिचार्ज करते हैं किस देश की इकोनॉमी बढ़ रही है और उसके बढ़ने का कारण क्या है।इसमें हम हमारे देश के अलग-अलग नीतियों पर निरीक्षण करते हैं और उन पर अध्ययन करते हैं कि इन नीतियों के द्वारा हमारे देश का अर्थशास्त्र में क्या प्रभाव पड़ेगा।

इस विषय में हम अपने देश के सारे व्यवसाय नीतियों और कानूनों के बारे में पढ़ते हैं।यह सारी चीजें आपको अर्थशास्त्र में पढ़ाया जाता है। इसमें हम अंतरराष्ट्रीय बाजार की नीतियों के बारे में भी पढ़ते हैं और अंतरराष्ट्रीय बाजार में कौन सी व्यवसाय नीतियां बनाई हैं इन सब चीज के बारे में आप लोग इस में पढ़ते हैं। सभी देशों के अलग-अलग व्यवसाय की नीति और कानून होती है अर्थशास्त्र में हम अंतरराष्ट्रीय और अलग-अलग देशों के व्यवसाय नीति और कानून के बारे में पढ़ते हैं।

इतिहास (History)

m.a. में सबसे पसंदीदा विषय इतिहास है अगर आपको विश्व के इतिहास और अपने देश के इतिहास के बारे में बहुत रुचि है और आप इतिहास को पढ़ना चाहते हैं और उस पर सर्च करना चाहते हैं तो आपको हिस्ट्री सब्जेक्ट से m.a. कोर्स करना चाहिए इसमें आपको अंतर्राष्ट्रीय और देश के इतिहास के बारे में पढ़ाया जाता है।

इसे हम यह देखते हैं कि देश में कितने राज्य हैं और कौन से साम्राज्य ने राज किया देश का विकास कैसे हुआ सबसे पहले कौन सी सभ्यता है और उन सभ्यताओं में कैसे विकास हुआ इन सब चीजों के बारे में पढ़ते हैं इतिहास में कैसे लोग रहते थे लोगों का अधिकार क्या-क्या था और वहां के नियम और नीतियों के बारे में पढ़ते है।

नागरिक शास्त्र (Sociology)

नागरिक शास्त्र सबसे महत्वपूर्ण विषयों में से एक है इसमें हम देश की कानून और नीतियों के बारे में पढ़ते हैं जो कि देश के लोगों को प्रभावित करती है इसमें हम राजनीतिक नैतिकता और मानव अधिकार के बारे में पढ़ते हैं। नागरिक शास्त्र में आप लोग राजनीतिक सैद्धांतिक और व्यावहारिक पक्षों के बारे में पढ़ेंगे।

मनोविज्ञान (Psychology)

अगर आपको मनुष्य के भाव और विचारों से संबंधित विषयों को पढ़ने में रुचि है तो आपको ए में मनोविज्ञान विषय से करना चाहिए क्योंकि इसमें आप मनुष्य के मन और उनके भाव और इन सब ऊपर प्रभाव पढ़ने वाले कारणों के बारे में पढ़ते हैं इसमें वातावरण के द्वारा मनुष्य के भाव और विचार में क्या बदलाव आ रहा है इन सब चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है। मनोविज्ञान एक बहुत ही बड़ा विषय है आसान भाषा में समझे तो यह आपके मन की दशा और विचार की दशा के बारे में बताते हैं। हमारी मन की दशा को वह हमारी परिस्थितियों के साथ जोड़कर देखते हैं और उन पर आधारित अध्ययन करते हैं।

दर्शनशास्त्र (Philosophy)

अगर आपको अध्यात्म में बहुत रुचि है तो आपको हमें दर्शन शास्त्र विषय से करनी चाहिए क्योंकि दर्शन शास्त्र विषय में आप आध्यात्मिक विषयों को पढ़ते हैं इसमें मनुष्य के हर एक कार्य को एक दूसरे से जोड़कर देखते हैं और उनसे होने वाले प्रभाव को पढ़ते हैं दर्शनशास्त्र सबसे प्राचीन विषयों में से एक है इसमें आप मानव जीवन का सही उद्देश्य और कारणों के बारे में पढ़ते हैं यह सबसे पसंदीदा विषय में से एक है बहुत से लोग दर्शनशास्त्र को पढ़ते हैं। दर्शनशास्त्र पड़ने का कारण यह है कि इससे लोगों को अपने कर्म और उसके उद्देश्य के बारे में अच्छी जानकारी मिलती है और वह अपने कार्यों को बहुत अच्छे से कर पाते हैं।

Rural studies

इसमें हम ग्रामीण जीवन शैली के बारे में पढ़ते हैं और ग्रामीणों का विकास कैसे हो रहा है उस पर अध्ययन करते हैं अगर आप ग्रामीण विकास के विषय में रुचि रखते हैं तो आपको m.a इसी विषय से करना चाहिए। इसमें आप ग्रामीण लोगों के विकास और गांव में होने वाले कार्यों और नीतियों के बारे में पढ़ते हैं।

भूगोल (Geography)

भूगोल विषय में हम पृथ्वी की संरचना और अंतरराष्ट्रीय और अपने देश के भौगोलिक संरचना के बारे में पढ़ते हैं इसमें हमें पहाड़ी समतल और समुद्री इलाकों के बारे में पढ़ा जाता है भूगोल विषय एक विज्ञान के विषय की तरह है इसमें हम अलग-अलग जगहों के भौगोलिक संरचना के बारे में पढ़ते हैं और इन भौगोलिक संरचनाओं के कारण उन इलाकों में क्या प्रभाव पड़ता है।

इन सब के बारे में पढ़ते हैं भूगोल विषय में आपको यही पढ़ाया जाता है कि भौगोलिक संरचनाओं के कारण वातावरण में कैसा बदलाव आ रहा है और इन बदलावों को कैसे रोका जाता है इन सब के बारे में पढ़ते हैं लोग इन भौगोलिक संरचनाओं में कैसे रहते हैं इन सब चीज के बारे में हम भूगोल में ही पढ़ते हैं।

साहित्य (literature)

साहित्य विषय में आपको साहित्य के विकास और साहित्य के इतिहास के बारे में पढ़ना होता है इसमें आप प्राचीन काल से लेकर आधुनिक काल में साहित्य के विकास के बारे में पढ़ते हैं कहते हैं अंग्रेजी साहित्य इतनी तेजी से आगे बढ़ा हिंदी साहित्य का विकास कैसे हुआ और हिंदी साहित्य को आगे बढ़ाने में कौन से महान लेखकों का योगदान रहा इन सब चीजों के बारे में हम साहित्य में पढ़ते हैं।

मानव शास्त्र (Anthropology)

मानव शास्त्र में हम मानव जाति के विकास के बारे में पढ़ते हैं और उनके इतिहास के बारे में पढ़ते हैं मानव शास्त्र में आपको सांस्कृतिक विकास साहित्यिक विकास और वैज्ञानिक इतिहास के बारे में पढ़ते हैं। मानव शास्त्र में मानव जाति के अतीत और वर्तमान पहलुओं के बारे में पढ़ते हैं। मानव शास्त्र में हम पढ़ते हैं कि सांस्कृतिक विकास कैसे हुआ लोग एक जगह से दूसरी जगह कैसे अपनी संस्कृति का विकास की लोगों के रहन-सहन और लोगों के वैज्ञानिक बदलाव के बारे में भी पढ़ते हैं।

भाषाएं M.A in different language

M.A course आप अलग-अलग भाषाओं से कर सकते हैं इसमें आपको विश्व के अलग-अलग भाषाओं से भी आप m.a. कर सकते हैं जैसे कि चाइनीस अंग्रेजी स्पेनिश फ्रेंच हिंदी जैसी भाषाओं को आप अपना विषय बनाकर m.a डिग्री कर सकते हैं इसमें आपको इन भाषाओं के साहित्यिक विकास और यह भाषाएं का इतिहास के बारे में पढ़ते हैं इसमें हम इन भाषाओं को बोलना और लिखना सीखते हैं पढ़ना सीखते हैं।

Conclusion

आज के समय में हर एक विषय में पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद आपको बहुत अच्छा अवसर प्राप्त होते हैं। अगर आपको कला और इतिहास और भूगोल जैसे विषयों में बहुत रुचि है तो आपको एम ए कोर्स करना चाहिए आज छात्र अपनी स्नातक डिग्री पूरी करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री की तरफ अधिक जा रहे हैं क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद उनको बहुत अधिक फायदे होते हैं।

इस आर्टिकल में हमने एम ए कोर्स में कितने सब्जेक्ट होते हैं? MA me kitne subject hote hai उन सब के बारे में एक-एक करके जाना है मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल (Subject in Master of Arts) को पढ़कर आपको इसकी जानकारी मिल गई होगी कि आप m.a किन-किन विषयों से कर सकते हैं अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हमारे आर्टिकल को शेयर जरूर करें और हमारे आर्टिकल के संबंधित कोई राय देना चाहते तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

धन्यवाद

Related Posts

One thought on “M.A में कितने सब्जेक्ट होते हैं? | Subject in Master of Arts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *